News

सचिव सोनमणि बोरा का अचानक निरीक्षण कई अधिकारियों पर गिरी गाज

Last Modified - December 6, 2017, 7:07 pm

छत्तीसगढ़ में आने वाले चुनाव को धयान में रख कर सभी विभागों को अपने कार्यो को जल्द से जल्द निपटाने का निर्देश दिया गया है। इन्ही कार्यो की वस्तुस्थिति जानने के लिए आज  जलसंसाधन विभाग के सचिव सोनमणि बोरा ने अचानक बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के चुचरूंगपुर गांव का दौरा किया और कार्यो का जायजा लिया। वहां चल रहे नहर लाइनिंग के कार्य का निरीक्षण किया.इस दौरान सचिव सोनमणि बोरा  के साथ उड़नदस्ता दल और गुणवत्ता जांचने वाली मशीन भी साथ में थी,जिसे देखकर काम करने वाले कर्मचारियों के होश उड़ गए।

ये भी पढ़े -60 लाख लोगो को पीडीएस सिस्टम से जोड़ा है छत्तीसगढ़ ने -मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह

इस बीच सोनमणि बोरा ने बलौदाबाजार शाखा वितरक नहर में 30000 मीटर से 36000 मीटर तक के नहर लाइनिंग का निरीक्षण किया और इसके बीच में कुछ जगहों पर खुदाई कराकर निर्माणकार्यों की गुणवत्ता का परीक्षण कराया.उन्होनें दो अलग-अलग स्थानों पर कुल 1030 मीटर नहर लाइनिंग उखड़वाकर देखा।

ये भी पढ़े -बाबरी मस्जिद गिराने के 25 साल ,शौर्य दिवस बनाम यौम-ए-गम

निरीक्षण के दौरान बोरा ने  डेढ़ किमी स्लीपर एवं लाईनिंग कार्यो में गुणवत्तापूर्वक नहीं होने पर तत्काल तोड़कर बनाने के निर्देश दिये.उन्होनें लाईनिंग कार्यो में कोताही बरतने के कारण उप अभियंता सी.बी.कोरियन को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया और कार्यपालन अभियंता संजय दीक्षित, अनुविभागीय अधिकारी जल संसाधन एन.के.पाण्डे को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए.साथ ही उन्होनें मुख्य अभियंता जल संसाधन एस.वी.भागवत को एक सप्ताह के अंदर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिये.

Trending News

Related News