रायपुर News

मुख्यमंत्री से मुलाकात पर मोर्चा प्रांताध्यक्षों में मनमुटाव क्यों ?

Last Modified - December 7, 2017, 10:13 am

रायपुर। शिक्षाकर्मियों की मांगों पर एक साथ लड़ाई लड़ने के लिए 5 मोर्चों के प्रांताध्यक्षों ने मिलकर. छत्तीसगढ़ पंचायत एवं नगरीय निकाय शिक्षक संवर्ग संघ की स्थापना की थी, लेकिन अब इस संघ में फूट पड़ गई है।

ये भी पढ़ें- 'राहुल गांधी के AICC अध्यक्ष बनने से भी छग कांग्रेस में कोई फर्क नहीं पड़ेगा'

दरअसल शिक्षाकर्मियों की हड़ताल स्थगित होने के बाद सीएम ने संघ के नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया था लेकिन सिर्फ वीरेन्द्र दुबे के नेतृत्व में उनका प्रतिनिधिमंडल ही बातचीत में शामिल हुआ।

ये भी पढ़ें- शिक्षाकर्मियों ने अपनी विवेक से हड़ताल वापस ली- रमन सिंह

इसको लेकर 4 मोर्चों के प्रांताध्यक्ष नाराज़ हो गए हैं। प्रांताध्यक्ष संजय शर्मा और केदार जैन ने वीरेन्द्र दुबे पर व्यक्तिगत लाभ के लिए सीएम से मुलाकात का आरोप लगाया है। उनका ये भी कहना है, कि मुख्यमंत्री से मुलाकात. मोर्चा का फैसला नहीं था।

ये भी पढ़ें-सुनिए शंकराचार्य की जुबानी, राहुल गांधी के जनेऊ धारण की कहानी

लिहाज़ा हजारों शिक्षाकर्मी आहत हैं। वहीं वीरेंद्र दुबे का कहना है, कि सीएम से मुलाकात सुबह से तय थी। सभी प्रांताध्यक्षों को सूचना भी दी गई थी। दुबे का ये भी कहना है, कि इस मुद्दे को जबरन तूल दिया जा रहा है।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News