राजनांदगांव News

छत्तीसगढ़ी के सुप्रसिद्ध मोहरी वादक पंचराम देवदास का निधन

Created at - December 25, 2017, 2:03 pm
Modified at - December 25, 2017, 2:03 pm

राजनांदगांव:- छत्तीसगढ़ी के सुप्रसिद्ध गीत-पता दे जा रहे गाड़ी वाला…को अपनी मोहरी के तान से ऊंचाई में पहुंचाने वाले सुप्रसिद्ध मोहरी वादक (लोक कलाकार) पंचराम देवदास का 24 दिसम्बर 2017 को निधन हो गया । वे पिछले कुछ समय से बीमार थे। जिले के आमगांव (डोंगरगांव) निवासी पंचराम देवदास पूरे छत्तीसगढ़ में एकमात्र ऐसे मोहरी थे ,जिसकी मोहरी की तान चंदैनी गोंदा के गीतों से लेकर सोनहा-बिहान, अनुराग धारा के धरोहर के लोक सांस्कृतिक मंचों में गूंजी है। संस्कृति विभाग के ज्यादातर कार्यक्रम उनकी मोहरी के तान से मंगलगान के रूप में गूंजी है।

 ये भी पढ़े - छग: सेक्स रैकेट, एक युवती के साथ तीन युवक गिरफ्तार

इसके अलावा, उन्होंने कई छत्तीसगढ़ी गीतों के कैसेटों में अपनी मोहरी की तान का छाप छोड़ कर उसे प्रसिद्धि की ऊंचाईयां प्रदान की है। उनके छत्तीसगढ़ी लोक कला के प्रति अवदान को देखते हुए छत्तीसगढ़ी साहित्य समिति के तत्वावधान में सृजन संवाद में आयोजित कार्यक्रम में मोहरी वादक पंचराम देवदास का छत्तीसगढ़ राजभाषा के तत्कालीन अध्यक्ष पं. दानेश्वर शर्मा एवं शहर के महापौर मधुसूदन यादव द्वारा सम्मानित किया था । पंचराम देवदास छत्तीसगढ़ के एक मात्र मोहरी वादक थे  जिन्होंने  छत्तीसगढ़ की इस पुरानी लोक कला को जीवित रखा था। उनकी मौत पर छत्तीसगढ़ फिल्म इंडस्ट्री शोक की लहर दौड़ गयी फिल्म निर्माता सतीश जैन ,गायत्री केशरवानी अभिनेता सुनील तिवारी ,मनमोहन ठाकुर, योगेश अग्रवाल ,भगवान तिवारी ,कुंदन सिंह ,के साथ साथ बहुत से फ़िल्मी कलाकारों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News