News

छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियों ने सरकार के खिलाफ शुरू किया असहयोग आंदोलन

Last Modified - December 25, 2017, 5:42 pm

रायपुर। संविलियन और नियमित वेतन की मांग पूरी नहीं होने से सरकार से नाराज चल रहे छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियों ने अपनी नई रणनीति के तहत सरकार के खिलाफ असहयोग आंदोलन शुरू कर दिया है। उन्होंने योग प्रशिक्षण शिविर का बहिष्कार कर दिया है। इसके अलावा वे बायोमेट्रिक अटेंडेंट्स का भी विरोध कर रहे है। उनका कहना है कि अब शिक्षाकर्मी हड़ताल और प्रदर्शन की बजाए सरकार के खिलाफ असहयोग आंदोलन चलाएंगे।

रायपुर: 9 वर्षीय मासूम को शराब पिलाकर किया बलात्कार

शिक्षा कर्मी संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि अपनी जायज मांगों को लेकर हड़ताल करने पर उन पर बच्चों की पढ़ाई का नुकसान होने का आरोप लगाया जाता है। अब उन्होंने इसका तोड़ निकल लिया है। शिक्षा कर्मी संघ के पदाधिकारियों के अनुसार सरकार के आश्वाशन के बाद भी 1 लाख शिक्षा कर्मियों को 2 माह और 80 हजार शिक्षा कर्मियों को एक माह का वेतन नहीं मिला है।

छग: 6 महीने के अंदर अंबिकापुर और जगदलपुर में कमर्शियल एयरपोर्ट

इससे उनके परिवारों के समक्ष फांके की स्थिति निर्मित हो रही है। शिक्षा कर्मियों का आरोप है कि सरकार ने पहले उनके आंदोलन को कुचलने की कोशिश की और अब अव्यवहारिक निर्देश निकाल कर शिक्षाकर्मियों को प्रताड़ित किया जा रहा है।

 

वेब डेस्क, ibc24

Trending News

Related News