News

शुक्र है, पाकिस्तान ने जाधव की मां के जूतों में बम होने की बात नहीं कहीं - सुषमा

Last Modified - December 28, 2017, 3:30 pm

नई दिल्लीपाकिस्तान में कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ हुई बदसलूकी पर गुरूवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में बयान दिया। सुषमा ने सदन में पाकिस्तान की शर्मनाक करतूत की निंदा करते हुए कुलभूषण के परिवार के साथ हुई बेअदबी पर कहा कि, पाकिस्तान ने मुलाकात की शर्तों को तोड़ा ही नहीं बल्की कुलभूषण की मां और पत्नी का अपमान भी किया है। विदेश मंत्री ने सदन को बताया कि मुलाकात से पहले कुलभूषण की मां और पत्नी को कपडे़ बदलने पर मजबूर किया गया। जाधव की मां जो सिर्फ साड़ी पहनती हैं उन्हें सलवार सूट पहनने पर मजबूर किया गया इतना ही नहीं पाकिस्तान ने दोनों सुहागिन महिलाओं से उनके सुहाग की निशानी मंगलसूत्र और बिंदी भी उतरवाए, जब कुलभूषण की मां ने कहा कि यह मेरे सुहाग की निशानी है मै इसे नहीं निकाल सकती तो उन्होंने आदेश का हवाल देकर उन्हे ऐसा करने पर मजबूर किया।

जेटली ने कहा मनमोहन का सम्मान, फिर हुआ मोदी मनमोहन पर समझौता

स्वराज ने आगे बताया कि जब जाधव की मां और पत्नी लौटकर आई तो उन्होंने मुझे बताया कि जैसे ही हम कुलभूषण के सामने बिना मंगलसूत्र और बिंदी के पहंुचे तो उनका पहला सवाल था आई बाबा कैसे है ? विदेश मंत्री ने बताया कि मां की मांग में सिंदूर और मंगलसूत्र नहीं देख बेटे को लगा की उसकी पीठ पिछे कुछ अनहोनी हो गई है। सदन को आगे की जानकारी देते हुए सुषमा ने कहा कि मुलाकात के दौरान मां को उसके बेटे से उसकी मातृभाषा मराठी में बात करने से रोका गया जब मां ने इसका विरोध किया और मराठी में बात जारी रखी तो उनका इंटरकाॅम बंद कर दिया गया। इतना ही नहीं जब मुलाकात खत्म होने के बाद उनकी मां और पत्नी ने अपनी जूती वापस मांगी तो उन्हे वह नहीं लौटाया गया और अब पाकिस्तान उसमें रिकाॅर्डिंग चीप, कैमरा और तरह-तरह के उपकरण लगे होने की बात कह रहा है।

देखिए सुषमा स्वराज का पूरा बयान -

सुषमा ने सदन के सामने साफ किया कि जब जाधव की मां और पत्नी वही जूते पहनकर दो-दो फ्लाइट बदलकर एयरइंडिया और एयरअमीरात की सुरक्षा चैकिंग पार करती है तब उन जूतों में कुछ नहीं था लेकिन पाकिस्तान पहंुचकर उनमें तरह-तरह की चीजें निकलने लगी, शुक्र है पाकिस्तान ने यह नहीं कहा की उनकी मां के जूतों में बम था। विदेश मंत्री ने कहा कि जिस तरह का बर्ताव पाकिस्तान ने दोनों महिलाओं के साथ किया वह इससे ज्यादा बेअदबी नहीं कर सकती था और यह अपमान सिर्फ कुलभूषण की मां और पत्नी का नहीं बल्की 130 करोड़ हिंदुस्तानियों का अपमान है।

जिसके बाद पूरे सदन ने सुषमा के बयान का समर्थन किया विदेश मंत्री के उनके पूरे भाषण के दौरान पाकिस्तान शेम-शेम के नारे लगते रहे, पाकिस्तान की इस काली करतूत की भत्र्सना करने कांग्रेस की तरफ से गुलाम नबी आजाद खडे़ हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की इन करतूतों को हम अच्छे से जानते है पाकिस्तान में लोकतांत्र नहीं कुलभूषण की मां और पत्नी के साथ जो हुआ वह पूरे देश का अपमान है कांग्रेस के साथ ही अन्य विपक्षी दलों ने भी सरकार के बयान का सर्मथन किया है। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News