News

मदरसों के लिए यह कर देश का दूसरा राज्य बना छत्तीसगढ़ 

Last Modified - December 29, 2017, 7:12 pm

छत्तीसगढ़ देश का ऐसा दूसरा राज्य बनने जा रहा है जहां अब मदरसों में आठवीं की जगह 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई होगी। इसके लिए राज्य सरकार मदरसों का आधुनिकीकरण करने जा रही है। मदरसों के आधुनिकीकरण के साथ ही यहां के शिक्षकों को भी नए सिरे से प्रशिक्षित किया जाएगा, मदरसों को केंद्र सरकार अनुदान देती है। लेकिन मदरसों के उन्नयन में अगर फंड की कमी आयी तो राज्य सरकार मदरसों के लिए अनुदान जारी करेगा, इसके लिए अब मदरसा बोर्ड पूरे प्रदेश में मदरसों के उन्नयन की तैयारी कर रहा है।

सेक्स सीडी कांड में जमानत पर छूटे पत्रकार विनोद वर्मा दिल्ली रवाना

अंबिकापुर में मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष ने सरगुजा संभाग के पांचों जिलों के मदरसों के संचालकों और शिक्षकों की सामुहिक बैठक लेते हुए मदरसों के उन्नयन करने की जानकारी दी है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि राज्य सरकार ने ये तय किया है कि मदरसों में आठवीं की बजाए 12वीं तक की कक्षाएं संचालित होंगी, इसके लिए मदरसों का आधुनिकीकरण किया जाएगा और नए शिक्षकों की भी भर्ती की जाएगी, साथ ही पुराने शिक्षकों को भी नए सिरे से प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

छत्तीसगढ़: सेक्स सीडी कांड में पत्रकार विनोद वर्मा को मिली जमानत

अंबिकापुर में मदरसों के संचालकों और शिक्षकों की बैठक लेते हुए मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष ने जानकारी दी है कि इस प्रयास में छत्तीसगढ़ देश का दूसरा राज्य बन जाएगा, इसके पहले पश्चिम बंगाल में मदरसों में 12वीं तक की पढ़ाई होती है। मदरसों के उन्नयन में यदि फंड की कमी हुई तो केंद्र सरकार के अलावा राज्य सरकार अपनी तरफ से अनुदान मदरसों को अनुदान देगी। 

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ऐसे हो गए धोखाधड़ी के शिकार......

भाजपा के पदाधिकारी राज्य सरकार के इस कदम को मुस्लिम समुदाय के लिए बेहतर बताते हुए इसका प्रचार प्रसार करने में जुट गए हैं, मदरसों के उन्नयन के बहाने भाजपा पदाधिकारी मुस्लिम स्वावलंबियों से मिलते हुए नजर आ रहे हैं और इसी बहाने राज्य सरकार की योजनाओं को भी मुस्लिम समुदाय के लिए बेहतर बता रहे हैं।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News