News

विकसित राज्य के रूप में बनी छत्तीसगढ़ की पहचान - रमन सिंह  

Last Modified - December 29, 2017, 9:17 pm

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह आज ग्राम बरबसपुर में गुरु घासी दास जयंती समारोह में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि पूज्य संत श्री गुरूघासीदास जी ने समाज को महत्वपूर्ण उपदेश दिये है, जिनमें सतनाम, सदमार्ग, सत मानव धर्म एवं कर्म को जीवन में उतारने की आवश्यकता है। उन्होंने धरती के सभी मानव को बराबर माना है, वहीं उन्होंने छुआछूत, ऊंच-नीच, बाह्य आंडबर, नशा-पान से दूर रहने की बात कहीं। पूज्य संत श्री गुरूघासीदास जी ने काम, क्रोध, भय, लोभ त्यागने की बात कहीं, वहीं उन्होंने स्त्री-पुरूष समान है, “मनखे-मनखे एक समान“ है, का संदेश सैकड़ों साल पहले दिया था। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि गुरूघासीदास जी की जयंती का पावन अवसर छत्तीसगढ़ के कोने-कोने में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाबा घासीदासजी के आशीर्वाद से विकास के अनेक कार्य संपादित किये जा रहे है।

राहुल गांधी पर जोगी ने टीएस सिंहदेव से पूछा ये सवाल...

राज्य में सुख-समृद्धि एवं शांति है और इन परिस्थितियों में तेजी से विकास संभव हो रहा है। उन्होंने कहा कि जिस समाज में भाई चारा एकता की भावना होती है, वहीं सुख शांति समृद्धि के साथ विकास होता है। उन्होंने कहा कि राज्य निर्माण के बाद वर्ष 2000 से 2003 तक राज्य में पिछडापन था, लोगों को रोजगार एवं काम-धाम के लिए बाहर पलायन करना पड़ता था। वर्ष 2003 के बाद से सभी क्षेत्रों में तेजी से विकास हुआ। विकास के मामले में खास तौर पर कबीरधाम जिला में कृषि, उद्यानिकी, आर्थिक, आधारभूत संरचना, सड़क, बिजली सहित हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। यह यहां की जनता के परिश्रम का प्रतिफल है। छत्तीसगढ़ की पहचान इन 14 वर्षो में विकसित राज्य के रूप में बनी है। 

मदरसों के लिए यह कर देश का दूसरा राज्य बना छत्तीसगढ़ 

मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकास के मामले में देश के साथ-साथ राज्य में चमत्कारिक परिवर्तन दिखाई देने लगा है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत राज्य में 35 लाख से ज्यादा लोगों को निःशुल्क गैस कनेक्शन एवं चूल्हा प्रदान किया गया है, वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गांव के हर व्यक्ति को आवास की सुविधा प्रदान की जा रही है।

 

वेब डेस्क, ibc24

 

 

Trending News

Related News