News

2017 में छत्तीसगढ़ पुलिस को नक्सली ऑपरेशन में मिली बड़ी सफलता

Last Modified - January 2, 2018, 1:48 pm

आज छत्तीसगढ़ पुलिस के जॉइंट प्रेस कांफ्रेंस में बहुत सी बातें सामने आई। सबसे मुख्य बात जो सामने आई वो ये कि  नक्सल उन्नमूलन में छत्तीसगढ़ पुलिस न सिर्फ  नक्सलियों के गढ़ तक पहुंची बल्कि 300 से ज्यादा नक्सलियों को मार गिराया है। आज सुबह आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में  गृह सचिव वीवीआर सुब्रह्मण्यम, डीजीपी एएन उपाध्याय, नक्सल डीजी डीएम अवस्थी, इंटेलिजेंस प्रमुख अशोेक जुनेजा, रायपुर आईजी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि नक्सल आपरेशन के लिए साल 2017 को इसलिए भी याद किया जायेगा, क्योंकि ऑपरेशन प्रहार के दौरान जवान तोड़ामरका जैसे नक्सलियों के गढ़ तक पहुंचे और आपरेशन को अंजाम दिया। गोलाराम और भोपालपट्टनम, नगरकोलम, जैसी कई ऐसी जगह थी, जहां जवानों ने पहली बार अपनी मौजूदगी दिखायी।

ये भी पढ़े - सुकमा में नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट ,बीजापुर में मिली फ़ोर्स को बड़ी सफलता

नक्सल आपरेशंस की कामयाबी बताते हुए डीजी डीएम अवस्थी ने  बताया कि  साल 2017 में 300 से ज्यादा नक्सलियों को पुलिस ऑपरेशन के दौरान मार गिराया गया है।इसके साथ ही सरकार ने पिछले 2 सालों में 1476 नक्सल आपरेशंस चलाये  और 1994 नक्सलियों को  गिरफ्तार किया गया है इसके साथ ही 1458 नक्सलियों में मारे गए, गिरफ्तार और सरेंडर नक्सली शामिल हैं. इन पर कुल 4 करोड़ का इनाम था, वहीं 1280 किलो की आईइडी 263 स्थानों से बरामद की गई। 100 हेंड ग्रेनेड और 2319 डेटोनेटर भी बरामद किये गये.

ये भी पढ़े - छत्तीसगढ़: 4 सालों में 2300 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

साथ ही उन्होंने गहरा शोक व्यक्त करते हुए ये बात भी कही कि इस दौरान हमारे  102 जवान शहीद भी हुए हैं और जवानों के 43 हथियार लूटे गए। खास बात ये रही कि आपरेशंस के साथ-साथ डेवलपमेंट के भी काफी काम हुुुए। बस्तर में पुलिस की देखरेख में 2 साल में 700 किलोमीटर की रोड बनी, जबकि 1300 किलोमीटर रोड बनने का काम जारी है। वहीं 75 नए थाने भी खोले गये.गृह सचिव वीवीआर सुब्रमण्यम ने दावा किया कि 2022 तक नक्सलवाद पूरी तरह से खत्म कर दिया जायेगा। अब सिर्फ बीजापुर और सुकमा में नक्सलियो से मौजूदगी है। केंद्र और राज्य सरकार के 70 से 75 हज़ार जवान नक्सलियों से लड़ रहे हैं। 4 नई बटालियन में 5 हज़ार जवान मार्च तक तैनात किए जाएंगे।उन्होंने ये बात स्पष्ट की है की अब बस्तर में सिर्फ 40 प्रतिशत नक्शली रह गए हैं बाकी  60 प्रतिशत  नक्सलियों का सफाया किया जा चूका है। 

 

Trending News

Related News