News

फिर संकट में गुजरात सरकार, मंत्री पुरूषोत्तम सोलंकी ने अख्तियार किए बागी तेवर

Last Modified - January 3, 2018, 6:59 pm

गुजरात सरकार की मुश्किलें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। बीते दिनों डिप्टी सीएम नितिन पटेल सरकार से नाराज थे, अब राज्य सरकार के एक और मंत्री पुरुषोत्तम सोलंकी ने बागी रुख अख्तियार कर पार्टी और आलाकमान को दुविधा में डाल दिया। सोलंकी ने साफ शब्दों में बिना घुमाए फिराए अपने लिए बेहतर पोर्टफोलियो और कैबिनेट रैंक की मांग रखी है। आपको बता दें कि सोलंकी कोली समुदाय के बड़े नेता है और नई सरकार में उन्हे मत्स्य पालन मंत्रालय दिया गया है।

गोवा एयरपोर्ट पर मिग 29K विमान में कैसे लगी आग, देखें वीडियो

पिछली सरकारों में भी उनके पास यही मंत्रालय था, पुरुषोत्तम सोलंकी ने कहा कि दमदार मंत्रालय की मांग कोली समुदाय की मांग है। कोली समुदाय फिलहाल दिए गए पोर्टफोलियो से खुश नहीं है, अगर मंत्रालय बदला नहीं गया तो जो मेरा समुदाय जो चाहेगा, मैं वहीं करुंगा। सोलंकी ने इस बात पर जोर दिया कि उनके समुदाय का राज्य की लगभग 40 सीटों पर दबदबा है ऐसे में उन्हें उचित मंत्रालय दिया जाना चाहिए।

तेजस्वी, रघुवंश कोर्ट की अवमानना के दोषी, लालू यादव को सज़ा कल

उन्होंने यह भी कहा कि वो साल 1998 से ही पार्टी के लिए सीट जीतते आ रहे हैं, अब उनका समुदाय उनसे यह पूछ रहा है कि आपको बेहतर मंत्रालय क्यों नहीं दिया जा रहा। इसी के साथ सोलंकी ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं लिया गया या कोई जरूरी कदम नहीं उठाया गया तो 2019 के आम चुनावों में पार्टी को कोली समुदाय का गुस्सा झेलना पड़ सकता है। ऐसे में साफ है कि कड़े मुकाबले में सत्ता एक बार फिर हासिल करने के बाद भी गुजरात भाजपा सरकार के लिए सबकुछ सही नहीं चल रहा है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News