News

मन सूफी और अंदाज सूफियाना- पीयूष मिश्रा

Last Modified - January 6, 2018, 6:09 pm

द ग्रेट इंडियन फिल्म एंड लिटरेचर फेस्टिवल  2018  का आगाज कल रायपुर में हुआ है जो लगातार तीन दिन चलेगा जिसमें  फिल्म और साहित्य से जुड़े अनेक नाम चीन हस्तियां  शिरकत करेंगी। कल पहले दिन भारतीय फिल्म जगत का जाना माना नाम पीयूष मिश्रा जो इंडस्ट्री में रंगकर्मी अभिनेता, संगीत निर्देशक, गायक, गीतकार, पटकथा लेखक के तौर पर जाने जाते हैं ने अपनी उपस्थित दर्ज करवाई है। आपको बता दें कि पीयूष मिश्रा ने मकबूल, गुलाल, गैंग्स ऑफ वासेपुर जैसी फ़िल्मों में गाने गाये हैं.पीयूष मिश्रा ने अपने गीतों और अभिनय से बॉलीवुड में एक खास पहचान बनाई है. वो बेबाक हैं. अराजक भी. लाग लपेट नहीं. उन्हें अमिताभ बच्चन भी पसंद हैं. दीपक डोबरियाल और रणबीर कपूर भी. उनका मन सूफी है.और अंदाज सूफियाना।पेश है आईबीसी 24 से हुई उनकी खास बातचीत -

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में जन्मे पीयूष मिश्रा ने दिल्ली स्थिति नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से स्नातक की शिक्षा प्राप्त की। अपनी बेबाकी के लिए जाने वाले मिश्रा कहते हैं कि मुझे ग्वालियर छोड़ने के लिए  एनएसडी एक रास्ता मिला अगर  एनएसडी नहीं होता तो मै कहीं और होता लेकिन मुंबई के दिनों को याद कर वे कहते हैं मेरे लिए मुंबई आना बहुत ही चुनौती भरा दिन था।नसीरुद्दीन साहब मझे मुंबई तो ले आये थे। लेकिन मुझे मुंबई में क्या बोलना है कैसे बोलना है ये समझने में बहुत टाइम लगा। पीयूष मिश्रा के बारे में एक बात  कही जाती है कि वो जो देखते हैं वो लिखते हैं चाहे वो राजनीति की बातें हो या आम आदमी की उनकी लेखनी हमेशा समान चलती है। 

IBC24  वेब टीम 

 

Trending News

Related News