News

इंदौर डीपीएस स्कूल बस हादसे के आरोपी तय, तीन गिरफ्तार

Last Modified - January 7, 2018, 12:25 pm

इंदौर। दिल्ली पब्लिक स्कूल बस हादसे के मामले में पुलिस ने हादसे की जिम्मेदारी तय करते हुए, तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। प्राथमिक जांच में हादसे की वजह स्टैरिंग फेल होना नहीं बल्कि बस की तेज रफ्तार थी, जबकि बस के अंदर स्पीड गवर्नर लगा हुआ था।

डीजी काॅन्फ्रेंस में शामिल होने मध्यप्रदेश पहुंचे प्रधानमंत्री तो ये बोले सीएम शिवराज

जिसकी तय रफ्तार 60 किलोमीटर प्रति घंटा थी। लेकिन बस की रफ्तार हादसे के वक्त 77 किलोमीटर प्रति घंटा थी, जिसमें स्कूल के ट्रांसपोर्ट मैनेजर चैतन्य कुमावत, स्पीड गवर्नर का प्रमाण पत्र जारी करने वाले कंपनी के कर्मचारी नीरज अग्नीहोत्री और स्पीड गवर्नर लगाने वाले सुविधा ऑटो गैस संचालक जलज मेश्राम को दोषी पाया है।

ग्वालियर में डीजीपी, आईजी वार्षिक सम्मेलन में पहुंचे नरेंद्र मोदी, शिवराज ने की अगवानी

इन तीनों आरोपियों को पुलिस ने गैर इरातन हत्या की धारा के तहत गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा पुलिस ने स्पीड गवर्नर लगाने वाली कंपनी के दो दफ्तर सील करने के साथ ही डीपीएस स्कूल की 68 बसों के दस्तावेज जप्त कर लिए है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक प्राथमिक जांच के बाद इन तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जांच में और भी आरोपी सामने आने पर उनके खिलाफ भी मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News