News

कलेक्टर ओपी चौधरी ने सुबह से ली एक दिन के कलेक्टर की क्लास

Last Modified - January 9, 2018, 1:04 pm

युवाओं के लिए एक दिन का कलेक्टर बनना किसी सपने से कम  है यूं तो आज का दिन उन सभी 27 ‘कलेक्टर’ के लिये खास और यादगार हैं.लेकिन रायपुर की शैडो कलेक्टर बनी श्रीकृति शायद ही अपने इस अनमोल पल को कभी भूल पायेगी। श्रीकृति के इस सपने को पूरा करने में सहयोग कर रहे हैं रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी जिन्होंने श्रीकृति को सुबह ब्रेकफास्ट के टेबल से ट्रेंड करना शुरू कर दिया है। 

ये भी पढ़े - माना बाल संप्रेक्षण गृह में दो गुटों के बीच खुनी मंजर

उन्होंने आज सुबह से ही उसे नाश्ते के टेबल पर बुला लिया नाश्ते के टेबल पर हुई चर्चा के बाद वे शहर में हो रहे निर्माण कार्य को देखने चले गए इस दौरान उन्होंने  श्रीकृति को बताया की कैसे सरकारी योजनाओ को पारित किया जाता है और कैसे उसका क्रियान्वयन किया जाता है। 

ये भी पढ़े - अभिजीत डे कैट एग्जाम में 99. 58 प्रतिशत ला कर छत्तीसगढ़ को किये गौरान्वित

इस एक दिन की कलेक्टर बानी  श्रीकृति से जब उनका अनुभव पूछा गया तो उनका कहना था कि ये मेरी लाइफ का सबसे कीमती और अनमोल पल है जिसके लिए मैं सदा मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद दूंगी आज मुझे प्रशासनिक कार्यो को बहुत करीब से सीखने मिल रहा है जो शायद में कलेक्टर बनने के भी बरसों नहीं सीख सकती थी।एक दिन में कितना सीख सकता है इंसान इस बारे में जब कलेक्टर महोदय से पूछा गया तो उन्होंने  बहुत अच्छा जवाब दिया वैसे तो पूरी जिंदगी कम पड़ जाती है, सीखने के लिए, लेकिन मुख्यमंत्री की ये पहल  वाकई सराहनीय है। अभी तक श्रीकृति  कटोरा तालाब में पर्यावरण सरंक्षण मंडल के प्रोजेक्ट का विजिट कर चुकी हैं.

 

Trending News

Related News