IBC-24

सैनेटरी नेपकीन को GST के दायरे से बाहर करने अनोखा विरोध प्रदर्शन

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 10 Jan 2018 01:11 PM, Updated On 10 Jan 2018 01:11 PM

सैनेटरी नेपकीन को GST के दायरे से बाहर करने के लिए महिलाओं ने विरोध का अनोखा रास्ता अपनाया है. मध्यप्रदेश के ग्वालियर से शुरू हुए इस अभियान में महाराष्ट्र और बिहार की महिलाओं भी शामिल हो गई हैं.

ये भी पढ़ें- पेट का कीड़ा 2 साल में पी गया 22 लीटर खून

    

ये भी पढ़ें- शादी का प्रस्ताव ठुकराने पर लड़की की चाकू से गोदकर हत्या 

अभियान के तहत महिलाएं सैनेटरी नेपकीन पर मैसेज लिखकर पीएम को भेज रहे हैं. ग्वालियर के गली-मोहल्लों में घूम कर युवतियों और महिलाओं से सैनेटरी पैड पर उनका मैसेज और हस्ताक्षर लिया जा रहा है.

    

ये भी पढ़ें- कार्तिक मर्डर केस: अवैध संबंध में अंधी मां ने प्रेमी से मिलकर की बेटे की हत्या

जिसे 3 मार्च को पीएम को भेजा जाएगा. अभियान में देश भर की महिलाएं और युवतियां लगातार जुड़ती जा रही हैं. वहीं युवतियां देश भर से विरोध स्वरूप पोस्टकार्ड एकत्र कर 3 मार्च 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेंटकर उन्हें एक हजार सैनेट्री नेपकीन और यह पोस्ट कार्ड देंगी. इसके बाद भी सरकार ने उनकी मांग नहीं मानी तो वह दूसरे चरण में एक लाख और तीसरे चरण में 5 लाख पैड मोदी जी को भेजेंगे.

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : a unique protest against GST being levied on the sanitary pad while highlighting menstrual hygiene

ibc-24