News

लालकृष्ण आडवाणी अब भाजपा में खास तो क्या आम भी नहीं रहे - यशवंत सिन्हा

Last Modified - January 10, 2018, 9:29 pm

जबलपुर। भाजपा की मूलधारा से किनारे हुए वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा अब कांग्रेस की भाषा बोलने लगे हैं जबलपुर पहुंचे भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा का दर्द खुलकर सामने आया। सिन्हा ने कहा कि आज की भारतीय जनता पार्टी अटल और आडवाणी की नहीं रह गई है। लालकृष्ण आडवाणी अब भारतीय जनता पार्टी में खास तो क्या आम भी नहीं रह गए हैं

जब भारतीय जूनियर हाॅकी टीम की गोलकीपर ने शिवराज मामा से मांगा "शौचालय"

सिन्हा ने बताया कि देश के कुछ मुद्दों को लेकर 13 महीने पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के लिए समय मांगा था लेकिन आज तक प्रधानमंत्री ने उन्हें मिलने का समय नहीं दिया और तब से उन्होंने तय कर लिया कि अब वो किसी भी मुद्दे पर सरकार से चार दिवारी के बीच बात नहीं करेंगे। अब जो भी बात होगी वह खुलकर सबके सामने सार्वजनिक तौर पर की जाएगी।

ऐसा है महिलाओं द्वारा संचालित भारत का पहला रेलवे स्टेशन, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में है दर्ज 

सिन्हा ने कहा कि एक जमाना था जब भाजपा का कोई भी कार्यकर्ता किसी भी वरिष्ठ नेता से आसानी से मिल लेता था क्योंकि उस समय अटल जी और आडवाणी जी की कार्यशैली बहुत अलग थी वह हर कार्यकर्ता को बराबरी का दर्जा देते थे लेकिन आज वह हालात नहीं रह गए हैं आज बड़े से बड़ा कार्यकर्ता ताकते रह जाता है इसके साथ ही सिन्हा ने केंद्र सरकार की नीतियों और योजनाओं पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमने 2004 से 2014 तक इन 10 सालों में विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस की जिन नीतियों का घोर विरोध किया आज की सरकार की नीतियों को लागू कर रही है। इसके साथ ही सिन्हा ने भावांतर योजना और प्रदेश में किसानों की हालत पर भी चिंता जाहिर की है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News