News

जीरम घाटी हमले की सुनवाई, 31 लोगों की शहादत में उलझे है कई सवाल  

Last Modified - January 12, 2018, 7:18 pm

रायपुर जीरम घाटी हमले की जांच कर रहे जस्टिस प्रशांत मिश्रा आयोग में शुक्रवार को सुनवाई हुई। आयोग में इस दौरान शासन को इंटेलिजेंस ब्यूरो से मिले इनपुट पर चर्चा हुई। पिछली सुनवाई में कांग्रेस के वकील ने मांग की थी, कि अप्रैल 2013 से जून 2013 तक आईबी से सीआरपीएफ और राज्य शासन को कितने इनपुट मिले थे, इसकी जानकारी पेश की जाए। इसके जवाब में राज्य शासन ने आयोग को बताया कि इन तीन महीनों में महज एक इनपुट मिला था, जिसे आयोग के सामने रख दिया गया।

छत्तीसगढ़ में 4 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म !

कांग्रेस के वकील ने इस बात पर आश्चर्य जताया कि तीन महीने में महज एक मात्र इनपुट कैसे दिया गया। वकील ने कहा कि शासन की भाषा ऐसी लग रही है कि इंटेलिजेंस ब्यूरो ने एक से ज्यादा बार खबरें बताई हैं, पाइंट्स दिए हैं, लेकिन शासन यहां एक ही इनपुट की बात कर रहा है। इस पर आयोग ने शासन से कहा है कि वो फिर आईबी और दूसरे संबंधित अधिकारियों से बात करें और यह पता करें कि कितने इनपुट्स दिए गए हैं, इसके बाद मामले की सुनवाई 25 जनवरी को होगी।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News