News

पत्रकारों को जान से मारे की धमकी पर नक्सलियों का स्पष्टीकरण बताया साजिश

Last Modified - January 14, 2018, 10:35 am

माओवादी संगठन की दक्षिण सब जोनल ब्यूरो की ओर से शनिवार दोपहर को भांसी रेलवेस्टेशन के पास पुलिस ने नक्सली पर्चे बरामद किये है. पर्चो में माओवादियों ने बीजापुर के आवापल्ली के पास नवंबर माह में पत्रकारों को जान से मारने की कथित धमकी भरे पत्र को लेकर सफाई दी है। माओवादियों ने इसे पुलिस व सरकार की साजिश और पत्रकारों को नक्सलियों का दुश्मन बनाने की नाकाम रणनीति करार दिया है।

रायपुर: कुम्हारी से सुपेला तक 4 फ्लाई ओवर्स को मंजूरी, इस साल से शुरू होगा काम

आपको बता दे कि नक्सलियों के पत्रकारों को जान से मारने की कथित धमकी भरे पर्चों के वायरल होने के बाद पत्रकार संघ द्वारा इस संदर्भ में 24 से 26 नवंबर को बीजापुर से आवापल्ली, बासागुड़ा व धरमारम के बीच मोटर साईकिल यात्रा कर स्पष्टीकरण मांगा था जिसके चलते ही माओवादी संगठन की दक्षिण बस्तर डिवीजनल कमेटी द्वारा स्पष्टिकरण दिया गया है।

जनकारवां में दंतेवाड़ा की जनता ने की जिम्मेदारों से सवाल

नक्सलियों का ये भी आरोप है कि पुलिस प्रशासन अपनी शाख बचाने के लिए माओवादी संगठन को बदनाम करने के लिए पत्रकार के खिलाफ जान से मारने की धमकी भरे पर्चें फेंके गये हैं। इस पर्चों की जांच कर दोषियों का चेहरा उजागर करने की मांग भी माओवादियों ने पर्चे के माध्यम से की है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News