News

लोक सुराज के माध्यम से जर, जोरू और जमीन की मांग, मुख्यमंत्री बनने वाले भी शामिल

Last Modified - January 14, 2018, 2:07 pm

लोक सुराज अभियान के तहत आवेदन पत्रों में रोचक मांगें आना शुरू हो गई हैं। इसी कड़ी में दुर्ग और बिलासपुर से रोचक आवेदन आए हैं। दुर्ग के एक पार्षद ने खुद को एक दिन का मुख्यमंत्री बनाने की मांग की है। दुर्ग नगर निगम के वार्ड नंबर 42 के पार्षद, प्रकाश गीते का कहना है, कि रमन सरकार के 14 साल के कार्यकाल में हर वर्ग के लोग परेशान हैं। प्रकाश का ये दावा भी है, कि वो एक दिन का सीएम बनकर सब ठीक कर देंगे। जिसके बाद भाजपा ने प्रकाश पर कटाक्ष किया है और उनकी डिमांड को मुंगेरीलाल के सपने बताया है।

सोने चांदी के नहीं यहां बांस के गहने मिलते है, विदेशी पर्यटक भी है कायल

वहीं बिलासपुर में पथरिया के लाटा गांव के एक युवक ने अपने लिए दुल्हन की मांग की है। पथरिया विकासखंड के रौनाकापा गांव के रमेश्वर ने जन शिकायत समाधान शिविर में आवेदन देकर महिला एवं बाल विकास विभाग से अपने विवाह के लिए दुल्हन की मांग की है, महाशय की मांग सिर्फ इतनी ही नहीं उन्होंने अपने लिए ऐसी दुल्हन की मांग कि है जो कलेक्टर, कमिश्नर, जज या क्रिश्चियन होना चाहिए।

 

फांसी लगाने के लिए मांगी 2 मीटर रस्सी

वहीं इसके इतर बिलासपुर जिले के सकरी में रहने वाले दिलहरण लाल भार्गव ने सरकार ने दो मीटर रस्सी की मांग की है जिससे वे फांसी के फंदे पर लटक सकें, इस अजीब मांग के पीछे का कारण है शासन की बेरूखी दरअसल सकरी में रहने वाले दिलहरण की जमीन प.ह.न. 26, रा.नि.मं. सकरी नर्सरी के पीछे 1.07 सिमील कृषि भूमि है। जिस पर वन विभाग ने कांटाबंदी कर दी है दिलहरण जब मुआवजे या उसके बादले जमीन मांगी तो विभाग ने कन्नी काट ली और नानुकूर करने लगा। किसान न्यायलय गया जहां से विभाग को मामाले का निराकरण करने के आदेश मिले लेकिन कोई विभाग से कोई जवाब नहीं आया। इसी व्यथा ने किसाना दिलहरण को मुख्यमंत्री रमन सिंह से आत्महत्या के लिए 2 मीटर रस्सी मांगने के लिए मजबूर कर दिया। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News