News

भूपेश बघेल ने मोहन भागवत से पूछे 5 सवाल, कहा-छत्तीसगढ़ दौरे पर ही दे दें जवाब

Last Modified - January 15, 2018, 5:48 pm

रायपुरराष्ट्रीय स्वयं संघ के प्रमुख मोहन भागवत दो दिन के दौरे पर छत्तीसगढ़ में हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने आज आरएसएस प्रमुख से पांच सवाल किए हैं और ये आग्रह किया है कि वो इन सवालों के जवाब अपने इसी दौरे में दे देते तो बेहतर होता। 

भूपेश बघेल ने ये सवाल अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके पूछा है, तो आइए हम आपको दिखाते हैं, आखिर किन सवालों के जवाब मोहन भागवत से जानना चाहते हैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष। भूपेश बघेल का पहला सवाल छत्तीसगढ़ में गायों की मौत को लेकर है। उन्होंने पूछा है कि राज्य में सैंकड़ों गायों की हत्या कर दी गई, गौसेवा के लिए मिली सरकारी अनुदान की राशि भाजपा सरकार की कमीशनखोरी की भेंट चढ़ गई। गौसेवा के नाम पर मची लूट और गौहत्या पर क्या संघ प्रमुख कुछ बोलेंगे?

भूपेश बघेल का दूसरा सवाल छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार की शराब नीति को लेकर है। भूपेश बघेल ने पूछा है कि पिछले वित्तीय वर्ष से प्रदेश सरकार ने खुद शराब बेचना शुरू कर दिया है, इसलिए शराब पर संघ की नीति के बारे में वे जानना चाहते हैं। उन्होंने मोहन भागवत से ये भी पूछा है कि क्या शराब बेचना भारतीय संस्कृति के खिलाफ नहीं है।

मोहन भागवत से अपने तीसरे सवाल में भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ से लापता महिलाओं का मुद्दा उठाया है। उन्होंने संघ पर तंज कसते हुए ट्वीट किया कि वैसे तो संघ के ढांचे में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं है, लेकिन प्रदेश से 27 हजार युवतियां गायब हो चुकी हैं। उन्होंने पूछा है कि छत्तीसगढ़ की संघ पोषित भाजपा सरकार में महिलाएं क्यों असुरक्षित हैं और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर संघ प्रमुख का क्या विचार है?

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का चौथा सवाल नक्सल प्रभावित बस्तर में आदिवासियों की स्थिति को लेकर है। भूपेश बघेल ने कहा है कि नक्सलवाद से निपटने के नाम पर बस्तर में आदिवासियों पर अत्याचार बढ़ा है और वो दोनों ओर से पिस रहे हैं। बघेल ने पूछा है कि जंगल के इलाकों में संघ के कई संगठन आदिवासियों के बीच काम करते हैं तो ये संगठन आदिवासियों पर होने वाले अत्याचार को लेकर चुप क्यों हैं? 

भूपेश बघेल ने अपने पांचवें सवाल में डॉ. रमन सिंह समेत सरकार के सभी मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप होने और इसे लेकर संघ की चुप्पी पर सवाल किया है। उन्होंने कहा है कि ये बीजेपी के 14 साल के कार्यकाल के भ्रष्टाचार की खुली स्वीकारोक्ति है और मोहन भागवत से पूछा है कि क्या संघ ही भ्रष्टाचार का पोषक हो गया है?

भूपेश बघेल के इन सवालों के जवाब हालांकि अभी तक न तो संघ की ओर से दिए गए हैं औऱ न ही छत्तीसगढ़ प्रदेश भारतीय जनता पार्टी की ओर से ही दिए गए हैं, जबकि इन सवालों में सीधे तौर पर प्रदेश कांग्रेस ने रमन सिंह के नेतृत्व वाली भाजा सरकार पर निशाना साधा है। 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News