News

जो भी खरीदने आता है भाजी, बन जाता है मुलाकाती- विवेक ढांड

Last Modified - January 17, 2018, 5:19 pm

रायपुर.रेरा के चेयरमैन बनने के बाद पूर्व मुख्य सचिव  विवेक ढांड को आज मंत्रालयीन कर्मचारियों संघ द्वारा  विदाई दी गयी और इसके साथ ही नए मुख्य सचिव श्री अजय सिंह का स्वागत किया गया.अपने विदाई समारोह में विवेक ढांड ने ऐसी बात कही जिससे पूरा हॉल ठहाकों से गूंज गया। दरअसल जैसे ही  विवेक ढांड को विदाई समारोह में उदबोधन के लिए बुलाया गया उन्होंने बेहद ही हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि मै रेरा  चेयरमैन बनने से बहुत परेशान हु 

 

दरअसल रेरा का ऑफिस शास्त्री मार्केट के पास में ही है,इसलिये सब्जी खरीदने के लिये आने-जाने वाले लोग आते जाते मुझसे मिलने चले आतें हैं. आगंतुक आकर कहतें हैं कि सब्जी खरीदने आया था,सोचा चलो रास्ते में साहब से मिलते हुए चलते हैं. उनका इतना बोलना था कि कार्यक्रम में मौजूद अधिकारी और कर्मचारियों ने खूब ठहाके लगाये।.अब तक विवेक ढांड बेहद गंभीर बातों के लिए जाने जाते हैं ये पहला मौका था जब उन्होंने बिदाई समरोह में कर्मचारियों के साथ लाइट बातचीत से अपना उदबोधन शुरू किया। 

 

 

इस अवसर पर मंत्रालयीन कर्मचारी संघ द्वारा  विवेक ढांड को शॉल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह भेंटकर उनको सम्मानित किया गया। इस अवसर पर श्री ढांड ने नए मुख्य सचिव श्री अजय सिंह को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि श्री अजय सिंह मेरे पुराने और अच्छे मित्र है। इनके कुशल नेतृत्व में छत्तीसगढ़ विकास की दिशा में और भी आगे बढ़ेगा। उन्होंने कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य गठन के समय विपरीत परिस्थितियों के बावजूद कर्मचारियों ने उत्साह के साथ काम किया।

ये भी पढ़े -- मुंगेली में 24 घंटे के अंदर आधा दर्जन बच्चे गंभीर हालत में भर्ती 

मंत्रालयीन कर्मचारी संघ द्वारा आयोजित विदाई समारोह को संबोधित करते हुए विवेक ढॉड ने अपने पुराने दिनों को याद किया और कहा कि छत्तीसगढ़ बनने के बाद डीकेएस भवन में बनाये गये मंत्रालय में कितनी दिक्कतें थीं.उस समय मंत्रालय में फर्नीचर का अभाव था.यहां तक कि फाइल रखने के लिये दराज नहीं था और नगर निगम से रैक मांगकर काम चलाना पड़ता था.नया मंत्रालय बनने के बाद यहां पर शांति और सुुकुन के साथ काम करता था.लेकिन जब से रेरा के नये दफ्तर में शिफ्ट हुआ हूं,फिर से गाड़ी-मोटर और लोगों के शोरगुल से पुराने मंत्रालय के दिनों की याद आने लगी है.उन्होनें कहा कि सब्जी खरीदने आने के बहाने मुलाकात करने वालों के लिये अब प्रहरी से कह रखा हूं कि ऐसे लोगों के लिये साहब की व्यस्तता का हवाला दे दिया करो.उन्होनें चुटकी लेते हुए कहा कि इसके बाद भी लोग मुलाकात करने के लिये अड़े रहते हैं,तो फिर मुझे मुलाकात करनी  ही पड़ती है। 

IBC24 web team


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News