रायपुर News

'जोगी की रमन और मोदी को खुली चुनौती,छग में चुनाव कर्नाटक के साथ कराएं'

Last Modified - January 30, 2018, 1:33 pm

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ सुप्रीमो अजीत जोगी को जाति मामले में बिलासपुर हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। अजीत जोगी की जाति संबंधित याचिका को बिलासपुर हाईकोर्ट ने मंजूर कर लिया है. कोर्ट ने जोगी की याचिका पर नई हाईपॉवर कमेटी बनाकर नए सिरे से जांच करने का आदेश दिया है।  

ये भी पढ़ें- रायपुर में ड्रिंक एंड ड्राइव केस में 110 कारें जब्त, 900 पर कार्रवाई

हाईकोर्ट से जाति मामले में फैसला आने के बाद अजीत जोगी  ने रमन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि रमन पॉवरड कमेटी, रमन फ्लॉप कमेटी साबित हुई. आज गांधी जी की पुण्यतिथि के दिन सच की जीत हुई और हमें न्याय मिला। यह एतिहासिक है। इसके साथ ही, चुनावी वर्ष के प्रथम महीने में उच्च न्यायालय का हमारे पक्ष में फैसला आना शुभ संकेत है एवं इस बात को पुनः प्रमाणित करता है कि, षड़यंत्र और झूठ अंत में सच के सामने घुटने टेकते हैं।

   

आज भी वही हुआ, मेरे और मेरे परिवार कि राजनितिक और सामाजिक हत्या करने की मंशा से मुख्यमंत्री रमन सिंह एवं उनके कांग्रेसी साथियों के द्वारा मिलकर चलाया गया कूटरचित और झूठा अभियान, न्यायालय में सच के आगे टिक नहीं पाया। यह जीत मेरी नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ के ढाई करोड़ जनता की है जो

ये भी पढ़ें- बे'बाघ' हो रहा मध्यप्रदेश, 7 दिन में 3 बाघों की मौत

  

रमन राज से त्रस्त हो चुकी है और जोगी सरकार बनाने का मन बना चुकी है। छत्तीसगढ़ में अब हमारी सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह में अगर थोड़ी भी नैतिकता शेष हो तो वो तत्काल अपने पद से इस्तीफ़ा दें। मैं नरेन्द्र मोदी जी और भाजपा को चुनौती देता हूँ कि वो अप्रैल में कर्नाटक के साथ छत्तीसगढ़ में चुनाव कराएं। भाजपा को छत्तीसगढ़ से भगाने जनता ज्यादा दिन नहीं रुकना चाहती।

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News