News

बजट 2018 की खास बातें, देखिए किसे मिली राहत और कौन हुआ आहत ?

Last Modified - February 1, 2018, 1:10 pm

जीएसटी के बाद सरकार का पहला बजट

 कैबिनेट की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली संसद में बजट पेश किया. बजट से पहले सदन में दिवंगत सांसदो को श्रद्धांजलि दी गई. जिसके बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली संसद को संबोधित किया.  आइए आपको बताते हैं वित्त मंत्री अरूण जेटली ने क्या-क्या घोषणाएं की है-

 

GST से अप्रत्यक्ष दर में कटौती

भारत उभरती हुई अर्थव्यस्था

GST को और आसान बनाया

भारत दुनियां की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को दिया बढ़ावा

 

 

 

किसानों को तोहफा-

किसानों को पूरा MSP देने का लक्ष्य

किसानों फसलों का उचित दाम मिलेगा

नया ग्रामीण बाजार ई-नैम बनाने का ऐलान

सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा

आलू,टमाटर और प्याज के लिए ऑपरेशन ग्रीन

500 करोड़ रूपएय की राशि का किया प्रावधान

42 मेगा फूज पार्क बनेंगे

पशु पालकों को भी मिलेगा किसान क्रेडिट कार्ड

2022 तक किसानों की आय दोगुना करेंगे

 

जेटली के बजट से किसानों, बेरोजगारों को राहत दी है, किसानों के लिए बड़ा ऐलान किया गया है. तो बेरोजगारों के लिए 70 लाख नई नौकरियां लाने का  वादा किया गया है. लेकिन मध्यम वर्ग के लोगों को टैक्स में कोई रियायत नहीं दी गई है. इनकम टैक्स की सीमा पहले की तरह 2.5 रखा गया है

 

 

      

 

    

 

 

चुनावों के लिए ब्रह्मास्त्र साबित हो सकता है बजट?

बजट में किसानों और गरीबों का खास ख्याल रखा गया है. किसानों के लिए 500 करोड़ का प्रावधान किया गया है. आलू, टमाटर और प्याज के लिए ऑपरेशन ग्रीन योजना शूरू की जाएगी. 42 मेगा फूड पार्क बनाए जाएंगे. पशु पालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा. 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है. 

 

   

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News