News

आखिर क्या होता है जौहर? आपने भी इसके बारे में जरुर सोचा होगा

Last Modified - February 4, 2018, 4:43 pm

जौहर, ये शब्द फिल्म पद्मावत के आने से पहले ही काफी सुर्खियों में रहा, इतिहास से अनजान कुछ लोगों में इस शब्द का अर्थ जानने काफी बेताबी थी. कि आखिर ये जौहर है क्या ? क्योंकि फिल्म रिलीज होने से पहले 'जौहर' शब्द का काफी इस्तेमाल हुआ था. तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं आखिर ये जौहर क्या है?

       

ये भी पढ़ें- करणी सेना बोली 'फ़िल्म पद्मावत, राजपूतों की वीरता को बख़ूबी बयान करती है'

आपने फिल्म रिलीज से पहले सुना होगा की रानी ने जौहार किया, कई लोगों में इसे लेकर गलत धारणा भी थी. लेकिन ये 'जौहर' उन भारतीय महिलाओं के बलिदान को याद कराता है. पतिव्रता के लिए भारतीय नारियां मौत को गले लगाने से भी गुरेज नहीं किया. 

    

    

जी हां, चितौड़गढ़ रिसायत पर खिलजी ने आक्रामण कर रानी पद्मावती के पति राजा रावल रत्नसिंह का कत्ल कर दिया. राजा की मौत के खबर से आहत रानी ने चित्तौड़गड़ किले में स्थित जौहर कुंड में कूदकर खुद को आग के हवाले कर दिया था. जौहर एक तरह का अग्नी कुंड होता है. पतिव्रता रानी अपने पति के अलावा दूसरे मर्द की परछाई तक को पाप समझने वाली पतिव्रता नारीं. शत्रु सेना के आक्रमण से राज्य की हार होने पर जौहर कर लेती थीं. 

    

फिल्म 'पद्मावती' रिलीज से पहले ही काफी सुर्खियों में रहीं. शुरुआत से ही राजपूत करणी सेना इस फिल्म के खिलाफ भारी विरोध पदर्शन की थी. राजस्थान में से फिल्म की शूटिंग के दौरान शूटिंग सेट पर आग लगी दी गई. संजय लीला भंसाली को भी तमाचा जड़ा गया था. संपूर्ण भारत में फिल्म का विरोध होता देख फिल्म 'पद्मावती' से कई सीन्स काट-छाट कर फिल्म का नाम 'पद्मावत' कर दिया गया है. लेकिन फिल्म को लेकर देश भर में अच्छी प्रतिक्रिया मिलती देख अब राजपूत करणी सेना ने फिल्म को देशभर में प्रदर्शित करने की मांग की है 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News