News

जब छिपकर मदद करने पहुंचे रेंज आईजी

Last Modified - February 7, 2018, 4:44 pm

 आज के चकाचौंध के युग में जब कोई व्यक्ति छोटा सा काम करने के साथ ही सबसे पहले अपनी फोटो खींच कर सोशल मीडिया में वाहवाही बटोरता है उस वक्त कल्पना कीजिये की कोई इंसान लोगों से छिप कर मदद करता है और आपको जानकर ये आश्चर्य होगा कि वो व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि अंबिकापुर  रेंज आईजी हिमांशु गुप्ता हैं। 

ये भी पढ़े - सुपर 30 में कुछ ऐसे नज़र आएंगे रितिक रोशन

 मिली जानकारी के अनुसार अस्पताल  में  थैलीसीमिया से पीडित 6 वर्षीय बच्चे को एक युनिट ब्लड की जरुरत थी लेकिन अस्पताल में पर्याप्त ब्लड न होने के कारण बच्चे के परिजन इधर उधर ब्लड के लिए भटकने लगे ये खबर जब आईजी तक पहुंची तो  सुबह सुबह वो  सीधे ब्लड बैंक पहुँचे और चिकित्सक और सीएमओ जायसवाल को बूला कर कहा “मैं ब्लड देने आया हूँ,आप लोग हिमांशु एक्का के परिजनों को बता दीजिए परेशान ना हो”  

ये भी पढ़े -दिल में मुख्यमंत्री के अहसानो का बोझ मुँह में कांग्रेस की बात कैसे उतरेंगे चुनाव समर में ?

 मिली जानकारी के अनुसार जिला अस्पताल में इन दिनों ब्लड की कमी चल रही है। सात सौ युनिट क्षमता वाले इस ब्लड बैंक में केवल 8 युनिट ही ख़ून शेष है।महिने में औसतन तीस यूनिट ख़ून की खपत है.जिसकी पूर्ति के लिए ब्लड बैंक प्रबंधन ने  सामाजिक संस्थाओं को पत्र भी लिखा है।  

ये भी पढ़े - जगार मेला अब 11 फरवरी तक 

जिस बच्चे की मदद के लिए हिमांशु गुप्ता पहुंचे थे उसके बारे में डॉ ने बताया जकी बलरामपुर निवासी छ वर्ष का हिमांशु एक्का को थैलीसीमिया की शिकायत है इसे हर महिने एक यूनिट ब्लड दिया जाता है जिसके लिए एक फिक्स डेट है और इस बार ब्लड बैंक में ब्लड की कमी के चलते उसे नियत समय से दो दिन बाद ब्लड दिया गया है आपको बता दें की सौ किलोमीटर का सफ़र तय कर उसे परिजन अंबिकापुर लाते हैं

वेब टीम IBC24

Trending News

Related News