News

अधेड़ को हाथियों ने रौंदा

Last Modified - February 11, 2018, 11:52 am

धरमजयगढ़ वन मंडल के बोरो वन परिक्षेत्र अंतर्गत रामपुर गाँव के खजूर महुआ जंगल में अधेड़ का शव मिला है। जंगल में लाश मिलने की सुचना पर वन अमला तत्काल मौके पर पहुँच मौका मुआयना किया शव के आस पास हाँथी के पदचिन्ह साफ नजर आ रहे थे वहीं पेड़ों की टहनियां भी टूटे हुए थे जिससे साफ प्रतीत हो रहा था की मृतक की मौत हाथी के कुचलने से हुई है।

छगः विद्युत विभाग की लापरवाही से मातम में बदली शादी की खुशियां 

वहीं शव के पास उसके परिजन भी मौजूद थे मृतक लालसाय उरांव की पत्नी आसरती से पूछने पर पता चला मृतक लालसाय और उसकी पत्नी दोनों अपने गाँव सोनपुर से रामपुर मेहमानी जा रहे थे मंगलवार की शाम खम्हार गाँव से पैदल जंगल के रास्ते रामपुर जाते वक्त मृतक लालसाय शौच के लिए रुका तभी उसकी पत्नी गाँव की ओर आगे बड़ गई और गाँव जाकर इन्तेजार करने लगी। जब वह रात भर नहीं पहुंचा तो सुबह अपने परिजनों में पतासाजी करने लगे लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला आखिर 4 दिन बाद वहीं रामपुर के खजूर महुआ जंगल में शव मिला।

छत्तीसगढ़ के इस गांव ने किया विधानसभा चुनावों के बहिष्कार का ऐलान

सूचना पर धरमजयगढ़ पुलिस घटना स्थल पहुंची, मौका मुआयना कर वन विभाग की टीम के साथ देर शाम शव को पहाड़ से निचे लाया जा सका। वन विभाग की ओर से मृतक के परिजनों को अंतिम क्रियाक्रम हेतु सहायता राशि के रूप में 25 हजार रुपए नगद दिए गए।

 

 

'वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News