News

ग्वालियर में आयोजित दिव्यांग शिविर में पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, सीएम शिवराज भी रहे मौजूद

Last Modified - February 11, 2018, 3:38 pm

ग्वालियर। अगर घर में कोई दिव्यांग हो तो बहुत पीड़ा होती है। इसलिए दिव्यांगों की सहायता के लिए हमेशा समाज को खड़ा रहना चाहिए। ये कहना है राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अपने एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर आए हुए है। इस दौरान उन्होनें 5 हजार 600 दिव्यांग और वरिष्ट नागरिकों को 2 करोड़ 90 लाख रूपए की सहायता दी है।

रेप के आरोप झेल रहे विधायक हेमंत कटारे के घर व जूना जिम पर पुलिस का छापा

वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी घोषणा की है, कि अब मध्य प्रदेश में कोई भी दिव्यांग जोड़ा शादी करता है, तो उस सरकार 2 लाख रुपये प्रोत्साहन राशि देगी जिससे दिव्यांग अपने आपको सुरक्षित महसूस कर सकें। इसके साथ ही शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि दिव्यांग मित्र अभियान पूरे प्रदेश में ग्वालियर की तर्ज पर चलेगा। क्योंकि दिव्यांगों की थोड़ी सी सहायता से वे समाज को बहुत ज्यादा दे सकते हैं। दरअसल ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय के खेल मैदान पर दिव्यांग शिविर का आयोजन किया गया है। जिसमें मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, हरियाणा के राज्यपाल प्रो कप्तान सिंह सोलंकी, केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत, केन्द्रीय पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कई मंत्रियों ने कार्यक्रम में शिरकत की है।

अतिथि शिक्षकों ने बूट पाॅलिश और मुंडन करवाकर दी धर्मांतरण की धमकी, राष्ट्रपति से मांगेगे इच्छा मृत्य

ग्वालियर जिले में चलाए जा रहे दिव्यांग मित्र अभियान के तहत जिला प्रशासन, रेडक्रॉस सोसाइटी हरियाणा और एलिम्को ( कृत्रिम अंग निर्माण निगम) की संयुक्त भागीदारी से आयोजित किया जा रहा है। शिविर में 4 हजार 271 दिव्यांग व वरिष्ठ नागरिकों को 8 हजार 108 सहायक उपकरण व कृत्रिम अंग बांटे जा रहे हैं। जिनमें एडिप योजना के तहत लाभान्वित कराये गए 2 हजार 436 दिव्यांग और राष्ट्रीय वयोश्री योजना से लाभान्वित 1835 वरिष्ठ नागरिक शामिल हैं। इनके अलावा दिव्यांग मित्र अभियान के तहत चिन्हित किये गए 1400 से अधिक दिव्यांगों को रोजगार, स्वरोजगार, नौकरी और आवास मिले। 1400 हितग्राहियों को आवास, रोजगार व स्वरोजगार एवं नौकरी के प्रमाण-पत्र दिये। अंग मसलन ट्राइस्किल, व्हीलचेयर, स्मार्ट केन, स्मार्ट फोन, एरियल किट, एमएसआईडी, बैशाखी व छड़ी, एलिम्को के कारीगरों द्वारा ट्राइस्किल एसेम्बलिंग दी गई। 

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News