रायपुर News

शिक्षाकर्मियों का संघर्ष: बर्खास्त और जेल गए शिक्षाकर्मियों का सम्मान

Last Modified - February 14, 2018, 4:44 pm

रायपुर।  छत्तीसगढ़ पंचायत एवं नगरीय निकाय शिक्षक संघ ने 15 दिवसीय आंदोलन के दौरान बर्खास्तगी और जेल प्रताड़ना झेलने वाले अपने शिक्षाकर्मियों का आज एक कार्यक्रम आयोजित कर सम्मान किया । 

ये भी पढ़ें- जोगी के राजनांदगांव से चुनाव लड़ने पर अब धरमलाल कौशिक ने किया कटाक्ष

    

 

संघ के प्रदेश अध्यक्ष और मोर्चा के संचालक संजय शर्मा ने कहा कि प्रदेश के आम शिक्षाकर्मियों की एकजुटता के बल पर इतना बड़ा आंदोलन किया गया जिसमें महिला शिक्षाकर्मियों की भी सहभागिता बड़े पैमाने पर रही ऐसे शिक्षाकर्मी साथियों का सम्मान हमारे लिए गौरव का विषय है और आज हमने उनका सम्मान करके गौरव की अनुभूति प्राप्त की है ।

    

     

     

 ये भी पढ़ें- 

छत्तीसगढ़ः मांग पत्र मांगने के सरकार के फैसले पर शिक्षाकर्मी संघ ने दी प्रतिक्रिया

वेब टीम से खास बातचीत में संघ के मीडिया प्रभारी विवेक दुबे ने शिक्षकों के संघर्ष के बारे में बात करते हुए बताया कि पिछले साल नवंबर-दिसंबर माह में शिक्षाकर्मियों ने संविलयन की मांग को लेकर प्रदेशभर में प्रदर्शन किया था. 15 दिनों के इस प्रदर्शन में छत्तीसगढ़ के कोने कोने से शिक्षाकर्मी राजधानी में प्रदर्शन को जुट रहे थे, लेकिन शासन ने शिक्षाकर्मियों पर हर वो सख्ती बरती थी जिससे उनका आंदोलन फिका पड़ जाए. शिक्षाकर्मियों से मारपीट तक की गई थी, कई शिक्षाकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया था. बावजूद इसके शिक्षाकर्मी अपनी मांगों को लेकर मैदान में डटे रहे. आज उन्हीं शिक्षकों को सम्मान किया गया है. 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News