News

रमन सिंह ने कांकेर के युवा नारद को बताया आदर्श, हुनर को सराहा

Created at - February 16, 2018, 11:54 am
Modified at - February 16, 2018, 11:54 am

रायपुर। छत्तीसगढ़ समेत पूरे देश में रोजगार के अवसरों को लेकर एक बहस छिड़ी हुई है। विपक्षी दल कांग्रेस युवाओं को रोजगार मुहैया कराने में भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर नाकामी का आरोप लगाकर घेराबंदी कर रही है। कांग्रेस का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन नौकरियां बढ़ने की तुलना में पहले से भी घट गए। दूसरी ओर, भाजपा का दावा है कि मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से स्वरोजगार को प्रोत्साहन मिल रहा है। केंद्र सरकार का कहना है कि आज के युवा रोजगार मांगने में नहीं बल्कि खुद का रोजगार करने में जुटे हैं, स्वावलंबी बन रहे हैं। इसी बहस के बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कांकेर के एक युवा नारद राम कल्लो का जिक्र करते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाला है। डॉ. रमन सिंह ने इस पोस्ट में लिखा है कि नारद ने किस तरह अपने हुनर को पहचाना, तराशा और जिस तरह से स्वरोजगार का सृजन किया है। छत्तीसगढ़ सीएम ने लिखा है कि नारद जैसे प्रतिभाशाली युवा ही नए छत्तीसगढ़ का निर्माण करेंगे और इस राज्य को विकास के शिखर पर ले जाएंगे। 

मेरी प्रेरणा, जहां चाह-वहां राह नाम से अपने पोस्ट में डॉ. रमन सिंह ने बताया है कि नारद राम कल्लो प्रदेश के कांकेर जिले के मरदेल गांव के रहने वाले हैं। युवा नारद राम कल्लो ने अपने हुनर के बल पर स्वावलंबी जीवन जीने की राह चुनी। नारद राम कल्लो ने प्रशिक्षण के जरिए अपने कौशल का विकास किया और फर्नीचर बनाने और मूर्तियों के निर्माण का प्रशिक्षण लिया। मुख्यमंत्री ने इस कुशल युवा की प्रशंसा करते हुए लिखा है कि आज नारद राम बेहद कुशलता के साथ फर्नीचर बनाते हैं। इसके अलावा नारद राम अपने हाथों से बनाई मूर्तियों को बेचकर अपने परिवार का भी पूरा ख्याल रखते हैं। 

ये भी पढ़ें- परीक्षा के तनाव से मुक्ति का मोदी मंत्र

कौशल विकास को छत्तीसगढ़ में प्रोत्साहन देने के लिए 2018-2022 में विशेष पंचवर्षीय कार्ययोजना भी तैयार की जा रही है ताकि नारद राम कल्लो की तरह अन्य युवाओं को भी अपने हुनर के दम पर स्वावलंबी बनने में मदद मिल सके।

आपको बता दें कि भारत में युवाओं की बढ़ती बेरोजगारी एक बड़ा मुद्दा है और रोजगार सृजन को लेकर सरकार पर काफी दबाव है, जिससे निपटने के लिए देश और राज्यों में कौशल विकास पर काफी जोर दिया जा रहा है।

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News