News

अय्यारी के अय्यारों को मिले सिर्फ दो से तीन स्टार

Last Modified - February 16, 2018, 6:59 pm

नीरज पांडे पहले ही बेबी स्पेशल 26 और एमएस धोनी द अनडोल्ट स्टोरी जैसी फिल्में बना चुके हैं...आज उनकी फिल्म अय्यारी रिलीज हुई है जिसका इंतजार हर कोई कर रहा था.लेकिन जिन्होंने भी नीरज की पहली फिल्मे देखी थी उन्होंने इस फिल्म में अक्षय कुमार को मिस किया ..क्योंकि नीरज और अक्षय की जोड़ी कमाल की है लेकिन इस बार नीरज मनोज बाजपेयी और सिद्धार्थ मल्होत्रा नसीरुद्दीन शाह रकुलप्रीत सिंह जैसे कलाकारों के साथ फिल्म लेकर आए हैं..तो आइए जानते हैं नीलम अहिरवार से  ये फिल्म आपके लिए घाटे का सौदा है या फिर फायदे का.

मनोज बाजपेयी के लिए देखें 'अय्यारी'

नीरज पांड की फिल्म शुरूआत होती है कर्नल अभय सिंह (मनोज बाजपेजी)और मेजर जय सिंह( सिद्धार्थ मल्होत्रा) के तकराव के बीच..दोनों के बीच गुरू और चेले के जैसा रिश्ता है...और साथ ही विचारों का आभाव भी है...एक तरफ जय यंग टैलेंड और नई सोच रखने वाला जवान है तो वहीं अभय सिंह  सख्त कड़क मिजाज गुरू...दोनों के बीच मतभेद हैं दोनों सेना के लिए काम करते हैं एक टीम जिसमें जय के साथ बाकी सदस्य हैं उन्हें लीड करते हैं कर्नल अभय सिंह...जय को काम के दौरान अहसास होता है कि सेना के सिस्टम के अंदर भी भ्रष्टाचार फैला हुआ है और वो सिस्टम के काम करने के तरीके से परेशान हो जाता है और अपने लिए नया रास्ता तलाशते हैं...

 

इस बीच सेनाअध्यक्ष के सामने एक आर्म डील रखी जाती है.वो भी सेना के पूर्व सेनाअध्यक्ष के जरिए.,.और डील के बदलेमुनाफे के तौर पर चार गुना ज्यादा पैसा ऑफर किया जाता है...जिससे सेनाअध्यक्ष नाराज हो जाते हैं और कर्नल अभय सिंह को ऑडर देते हैं कि लोगों के बीच आर्मी की इमेज खराब नहीं होनी चाहिए....आर्म डील नहीं होनी चाहिए...दूसरी तरफ जय को याकिन होता है कि सेना के अंदर किस तरह से भ्रष्टाचार चल रहा है हर कोई पैसा कमाने में लगा हुआ है...और फिर जय शुरु करता है एक खुद का मिशन....वो सीक्रेट डील की कुछ इंफॉर्मेशन दुश्मनों को बेचना चाहता है...और पैसा कमाना चाहता है...लेकिन उसकी इस नादानी से आर्मी का नाम खराब हो सकता है...और जय के इरादों की भनक अभय सिंह को लग जाती है...इसके बीच जय और सोनाली यानि रकुलप्रीत की लवस्टोरी भी शुरु हो जाती है जय उसे भी अपने प्लान में शामिल कर लेता है...ऊधर अभय सिंह अपनी टीम के साथ मिलकर जय को पकड़ने और डील के सीक्रेट डाक्यूमेंट बेचने से रोकता है..अब वो कैसे होता है ये तो आपको थिएटर जाने के बाद ही पता चलेगा.

 

 

बात की जाए एक्टिंग की...तो पूरी फिल्म में सिर्फ और सिर्फ मनोज बाजपेयी की छाए हुए हैं कई सीन में वो सिद्धार्थ मल्होत्रा पर भी भारी प़ड़े हैं...अगर बात की जाए नसीरुद्दीन शाह की छोटे से रोल में उन्होंने भी शानदार अभिनय किया है और कहानी को नया मोड़ दिया है...लेकिन सिद्धार्थ मल्होत्रा का रोल उतना दमदार नहीं है जितना उनसे उम्मीद की जा रही थी...बीते सालों भी उनकी फिल्मों में कुछ खास कमाल नहीं दिखाया और इस साल भी उनकी पहली फिल्म से अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला है...वहीं एक्ट्रेस रकुल प्रीत का रोल ठीक ठाक है एक गाना भी उन पर फिल्माया गया है  वहीं अनुपम खेर कैमियो रोल में...जो नहीं होता  तो भी चलता जबरन उनका रोल फिल्म में डाला गया है...

 

 

कमजोर कडी की बात की जाए...तो फिल्म लंबाई ज्यादा है फार्स्ट हाफ में फिल्म तेजी के साथ आगे बढती है अच्छे डायलॉग्स सीन के साथ चलती है लेकिन इंटरवल के बाद 

फिल्म को बेवजह खींचा गया है और अंत यानि की क्लाइमैक्स तो बेहद बोरिंग और बोझिल है...जो काफी दमदार किया जा सकता था जैसा की नीरज पांडे की बाकी फिल्मों में होता है

 

बिजनेस की बात की जाए तो ये फिल्म बॉक्सऑफिस उम्मीद 

के मुताबिक कमाई नहीं कर पाएगी..क्योंकि सामने अक्षय कुमार की पैडमैन भंसाली की पद्मावत को पहले से ही जमी हुई है तो वहीं अय्यारी के साथ हॉलीवुड फिल्म ब्लैक पैंथर भी रिलीज हुई है जो कि पहले से ही धमाल मचा रही है...ऐसे में अय्यारी का कमाई निकाल पाना थोड़ा मुश्किल है.अब सीधी बात नो बकबास ये फिल्म सिर्फ और सिर्फ मनोज बाजपेयी के फैन्स के लिए अच्छा ऑप्शन हैं और बच्चों और गर्लफ्रेंड के साथ जाएंगे तो बोर हो जाएंगे इससे अच्छा तो आप ब्लैक पैंथर देख लिजिए..तो मेरी तरफ से अय्यारी के अय्यारों को सिर्फ दो से तीन स्टार....

     

WEB TEAM IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News