भोपाल News

मध्य प्रदेश उपचुनाव- एक वोटर तीन वोटर लिस्ट में तो एक फोटो 6 कार्ड पर 

Created at - February 21, 2018, 11:14 am
Modified at - February 21, 2018, 12:46 pm

भोपाल। मध्य प्रदेश के कोलारस और मुंगावली में उपचुनाव में सिर्फ तीन दिन बाकी रह गए हैं। 24 फरवरी को इन दोनों विधानसभा सीटों के लिए मतदान किया जाना है, लेकिन इन दोनों ही सीटों की मतदाता सूची में सामने आई बड़े पैमाने पर गड़बड़ियों को अभी भी दुरुस्त नहीं किया जा सका है। खुद चुनाव अधिकारी का मानना है कि वोटर लिस्ट में गड़बड़ी है, जिसे ठीक करने का काम किया जा रहा है। मध्य प्रदेश की मुख्य निर्वाचन अधिकारी सलीना सिंह के मुताबिक ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां एक ही वोटर का नाम दो से तीन वोटर लिस्ट में दर्ज है। इसी तरह मुंगावली में एक ही वोटर का फोटो पांच से छह अलग-अलग नाम के वोटरों के नाम के आगे लगा हुआ है। यहां तक कि जिन मतदाताओं का निधन हो चुका है या स्थानांतरित होकर दूसरी जगह जा चुके हैं, उनके नाम भी मतदाता सूची में मौजूद हैं। निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इन सब पर काम किया जा रहा है, कलेक्टर का तबादला किया जा चुका है।

 

आपको बता दें कि मुंगावली और कोलारस में मतदाता सूची में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायत को लेकर कांग्रेस ने दिल्ली में मुख्य निर्वाचन आयोग से मुलाकात की थी। कांग्रेस ने इस गड़बड़ी के लिए भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि वो लोकतंत्र की हत्या कर रही है।

 

ये भी पढ़ें- मतदाता सूची में गड़बड़ी का आरोप, हटाए गए अशोक नगर कलेक्टर

खास बात ये है कि सिर्फ कांग्रेस ही नहीं, सत्तारुढ़ बीजेपी ने भी चुनाव आयोग से मतदाता सूची में गड़बड़ी की शिकायत की है। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया है कि कांग्रेस की ओर से मुंगावली को लेकर 36 और कोलारस को लेकर 17 शिकायतें मिली हैं, जिनमें वोटर लिस्ट में गड़बड़ी की बात कही गई है। उन्होंने जानकारी दी कि बीजेपी की ओर से भी 36 शिकायतें मिली हैं। चुनाव अधिकारी ने कहा कि इन शिकायतों का समाधान जितनी जल्दी हो सके, करने की कोशिश की जा रही है और 24 घंटे के भीतर इस काम को पूरा कर लिया जाएगा।

 

आपको बता दें कि कोलारस और मुंगावली विधानसभा उपचुनाव बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही दलों के लिए नाक का सवाल बना हुआ है। एक ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंद कुमार चौहान समेत राज्य सरकार के कई मंत्री खुद चुनाव प्रचार में जुटे हैं तो दूसरी ओर, कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में कांग्रेस ने भी पूरी ताकत झोंक रखी है। 

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News