रायपुर News

छत्तीसगढ़ की लगभग छह हजार ग्राम पंचायतें जुड़ेगी ऑप्टिकल फाइवर नेटवर्क से

Created at - February 23, 2018, 2:13 pm
Modified at - February 23, 2018, 2:13 pm

 छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव अजय सिंह की अध्यक्षता में गुरूवार को विधानसभा के मुख्य समिति कक्ष में भारत नेट परियोजना की राज्य स्तरीय क्रियान्वयन समिति की बैठक हुई। बैठक में परियोजना के द्वितीय चरण के तहत वर्ष 2019 तक छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में नेटवर्क कनेक्टिविटी विस्तार के लिए योजना की समीक्षा की गयी। मुख्य सचिव ने परियोजना के क्रियान्वयन के लिए जिला स्तर पर पंचायत, वन, गृह सहित संबंधित विभागों के शामिल करते हुए उप समिति गठित कर कार्य में गति लाने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़े - छत्तीसगढ़ बीजेपी में सोशल मीडिया के महत्व पर आयोजित हुई कार्यशाला

बैठक में चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एलेक्स पाल मेनन ने प्रस्तुतिकरण के जरिये परियोजना की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंनेे बताया कि वर्ष 2019 तक छत्तीसगढ़ के 85 विकासखण्डों की 5987 ग्राम पंचायतों को लगभग 1624 करोड़ रूपए की लागत से आप्टिकल फाइवर नेटवर्क की कार्ययोजना तैयार की गयी है। फाइवर नेटवर्क विस्तार के लिए निविदा भी जारी हो गयी है। वर्ष 2019 तक प्रदेश में सभी ग्राम पंचायतों में वाइ-फाई सुविधा उपलब्ध कराने का लक्ष्य है.

ये भी पढ़े - मोदी और रमन से मिलने की आस लिए चल बसी कुंवर बाई

 

 बैठक में अपर मुख्य सचिव वन श्री सी.के. खेतान, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री आर.पी. मण्डल, अपर मुख्य सचिव गृह श्री बी.व्ही.आर. सुब्रहमण्यम, प्रमुख सचिव वित्त श्री अमिताभ जैन, प्रमुख सचिव सूचना प्रौद्योगिकी श्री अमन सिंह, सचिव खनिज साधन श्री सुबोध कुमार सिंह, सचिव आवास एवं पर्यावरण श्री संजय शुक्ला, सचिव नगरीय प्रशासन डॉ. रोहित यादव सहित बी.एस.एन.एल. के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

वेब टीम IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News