राजनांदगांव News

मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 25 मरीजों को दिखना बंद

Created at - March 3, 2018, 1:03 pm
Modified at - March 3, 2018, 1:03 pm

राजनांदगांव के क्रिश्चन फैलोशिप हॉस्पिटल में बड़ी लापरवाही, यहां मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 35 लोगों की आंखें प्रभावित हो गई है. 32 मरीजों की आंखों में तकलीफ हो गई. ऑपरेशन के बाद मरीजों की आंखों में इन्फेक्शन की सूचना मिलने पर अस्पताल प्रबंधन हरकत में आया और सभी प्रभावित मरीजों को वापस बुलाकर विशेषज्ञ डॉक्टरों से इलाज कराया जा रहा है.

   

दो दिवसीय शिविर में 23 फरवरी को क्रिश्चन फैलोशिप हॉस्पिटल में करीब 45 लोगों की ऑखों का ऑपरेशन तीन डॉक्टरों ने किया था. ऑपरेशन के बाद इन्हें छुट्टी दे दी गई लेकिन 32 मरीजों की आंखों में जलन और आंसू निकलने की शिकायत मिलने लगी, इस बीच 25 मरीजों को एक आंख से दिखना बंद हो गया.

ये भी पढ़ें- तेज रफ्तार कार ने मासूम और उसके दादा को रौंदा, दोनों की मौत

इसके बाद इन्हें रायपुर के विशेषज्ञ डॉक्टरों को भी दिखाया गया, लेकिन इनके हालत में सुधार नहीं है, वहीं हॉस्पिटल प्रबंधन अपनी चूक से अस्विकार कर रहा है और उल्टा दोष मरीजों पर ही मढ़ रहा है. इस मामले की सूचना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को सुबह ही जांच टीम अस्पताल भेजी है. और मरीजों का हाल जानने के बाद सभी पहलुओं की जांच की जारी है. वहीं सीएम रमन सिंह ने कहा है कि सभी प्रभावितों को निजी अस्पताल में बेहतर इलाज किया जाएगा. 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News