रायपुर News

11 मार्च से शुरू होगा लोकसुराज अभियान, विपक्ष ने बताया फिजूलखर्ची और ढकोसला

Last Modified - March 5, 2018, 10:35 am

छत्तीसगढ़ सरकार का लोक सुराज अभियान 11 मार्च से शुरू हो रहा है। इससे पहले ही विपक्षी पार्टियों ने इस अभियान पर हमला बोलना शुरू कर दिया है. और इसे भाजपा सरकार का ढकोसला और फिजूलखर्ची बता रहे हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि राज्य की जनता सरकार के कुशासन से त्रस्त है। इसलिए इस साल लोक सुराज में आवेदनों की संख्या 28 लाख से ज्यादा है। जबकि पिछले साल इन आवेदनों की संख्या 1 लाख 65 हजार के करीब थी।

ये भी पढ़ें- सीएम रमन ने सड्डू को दिया सौगात, 40 करोड़ के विकास कार्यों का भूमिपूजन-लोकार्पण

ये भी पढ़ें- छग से राज्यसभा उम्मीदवार के लिए भाजपा ने तैयार किया 25 नामों का पैनल

कांग्रेस ने कहा कि स्वयं मुख्यमंत्री के गृह जिले में पिछले साल के मुकाबले इस साल 542 गुना आवेदन मिले हैं। वहीं, JCCJ ने आरोप लगाया कि जनता विश्वास से आवेदन देती है लेकिन शासन-प्रशासन इस पर गंभीरता से कार्रवाई न कर कूड़े में डाल देती है।

 

विपक्षी पार्टियों के इन आरोपों पर भाजपा का कहना है कि प्रदेश की जनता रमन सरकार पर भरोसा करती है इसलिए इस साल आवेदनों की संख्या 28 लाख तक पहुंची है और जनता की समस्या या मांगों पर ध्यान दिया जाता है। भाजपा के मुताबिक कवर्धा मुख्यमंत्री का गृह जिला है. इसलिए वहां की जनता छोटी-छोटी समस्याओं को लेकर सीधे CM को आवेदन करते हैं।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News