रायपुर News

सकते में सरकार, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के बाद शिक्षाकर्मियों की बारी

Last Modified - March 5, 2018, 2:38 pm

रायपुर। छत्तीसगढ़ के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अपनी 6 सूत्रीय मांगों को लेकर आज से बेमियादी हड़ताल पर चले गए हैं. मोर्चा के नेताओं ने 15 दिन पहले आंदोलन की सूचना अधिकारियों को दे दी थी. जिसे शासन-प्रशासन ने अनसूना कर दिया था. लिहाजा अपनी मांगों को लेकर कार्यकर्ताओं ने अब बेमियादी हड़ताल शुरू कर दी है. 

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में महिला शिक्षाकर्मी थामेंगे आंदोलन की कमान

 

   

इससे पहले भी प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद की है. अपनी मांगों को सरकार तक पहुंचाने की कोशिश की है लेकिन उनके पक्ष में कोई सुनवाई नहीं हुई, लिहाजा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने आज से बेमियादी हड़ताल का रूख अख्तियार कर लिया है. 

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के बेमियादी हड़ताल में चले जाने से बच्चों को मिलनी सुविधाओं पर असर पड़ेगा. सरकार के लिए ये परीक्षा की घड़ी है क्योंकि चुनाव पास है और इनसे पहले शिक्षाकर्मी संघ के प्रांताध्यक्ष संजय शर्मा ने संविलियन की मांग को लेकर चेतावनी जारी कर चुके हैं.

   

 

शिक्षाकर्मियों की निगाहें कमेटी की रिपोर्ट पर टिकी हैं, कमेटी की रिपोर्ट शिक्षाकर्मियों के खिलाफ आती है तो एक बार फिर बड़ा आंदोलन होगा.

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 

Trending News

Related News