रायपुर News

मोतियाबिंद ऑपरेशन में लापरवाही का मामला, खतरे में 32 लोगों की आंखों की रोशनी

Created at - March 10, 2018, 10:46 am
Modified at - March 10, 2018, 10:46 am

राजनांदगांव के क्रिश्चियन अस्पताल में मोतियाबिंद ऑपरेशन में लापरवाही मामले की जांच के लिए गठित टीम ने PCC को रिपोर्ट सौंप दी है। जांच कमेटी के अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता के मुताबिक ऑपरेशन के दौरान बड़ी लापरवाही हुई है, जिसकी वजह से क़रीब 3 दर्जन लोगों की आंखों की रोशनी जा सकती है। उन्होंने ऑपरेशन में इस्तेमाल की गई दवाइयों की जांच की मांग की है।

ये भी पढ़ें- आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर सख्ती, कहा- काम पर लौटे नहीं तो होगी बर्खास्तगी

  

ये भी पढ़ें- नौ साल की मासूम से मॉल में दरिंदगी की खून खौलाने वाली खबर

डॉ गुप्ता का ये भी कहना है, कि राजनांदगांव बड़े पैमाने पर नकली दवाइयों को खपाने का केंद्र बन गया है। लिहाज़ा ऑपरेशन में भी नकली दवाइयों के इस्तेमाल से इनकार नहीं किया जा सकता।

 

ये भी पढ़ें- शिक्षाकर्मियों की मांगों पर कमिटी 16 मार्च को करेगी बैठक, अहम और आखिरी होगी चर्चा

डॉ गुप्ता ने ये भी कहा, कि सरकार. स्मार्ट कार्ड से इलाज कराने की बात करती है लेकिन वनांचल और आदिवासी क्षेत्र में ग़रीबों को स्मार्ट कार्ड ही नहीं दिए गए हैं।

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News