दंतेवाड़ा News

बस्तर की ये बेटियां हर दिन इंद्रावती नदी पार कर चार हजार लोगों की करती हैं सेवा

Created at - March 12, 2018, 5:11 pm
Modified at - March 12, 2018, 5:11 pm

 रायपुर- मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज सवेरे जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में दो महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सुश्री सुनीता ठाकुर और सुश्री संतकुमारी राणा को जिले के नक्सल प्रभावित संवेदनशील इलाके में दी जा रही सराहनीय सेवाओं के लिए प्रशस्ति पत्र भेंटकर सम्मानित किया।

ये भी पढ़े - भाजपा के राज्यसभा उम्मीदवार देखकर जोगी का तंज, सरकार अनुसूचित जाति एवं आदिवासी विरोधी

 

 डॉ. सिंह लोक सुराज अभियान के तहत दंतेवाड़ा के दौरे पर थे। उन्होंने आज सवेरे वहां से अगले पड़ाव के लिए रवाना होने से इन महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया। ग्राम चेरपाल में वर्ष 2012 से पदस्थ दोनों महिला स्वास्थ्य कर्मचारी ग्रामीणों तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाने के लिए प्रतिदिन एक डोंगी में इंद्रावती नदी पार कर आना-जाना करती हैं। 

ये भी पढ़े - रायपुर के शास्त्री चौक में स्काई वॉक निर्माण के दौरान राहगीर पर गिरा लोहे का रॉड

 

उनके द्वारा अबूझमाड़ क्षेत्र से लगे चेरपाल, पदमेटा, तुमरीगुंडा तथा काउरपाल नामक गांवों में चार हजार की आबादी को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं दी जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने दोनों महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के हौसले की प्रशंसा करते हुए उन्हें आशीर्वाद भी दिया। इन महिलाओं के द्वारा ग्रामीणों में स्वास्थ्य जागरूकता बढ़ाने के साथ-साथ उन्हें विभिन्न बीमारियों से बचाव के उपाय भी बताए जाते हैं। साथ ही आवश्यक होने पर मरीजों का प्राथमिक उपचार भी किया जाता है। ग्रामीणों के बीच इनके द्वारा स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं का भी प्रचार किया जाता है।  

web team IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News