News

संस्कारों में प्रधानमंत्री मोदी से आगे निकले डॉ रमन

Last Modified - March 13, 2018, 1:25 pm

कल  बिलासपुर प्रेस क्लब के नवीनीकृत भवन का लोकार्पण छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के द्वारा किया गया इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार और साहित्यकार  श्यामलाल चतुर्वेदी जी को पद्मश्री सम्मान के लिए बधाई दी। इस बधाई में एक खास बात देखने मिली की  मुख्यमंत्री ने पैर छू कर  चतुर्वेदी जी को प्रेस क्लब की ओर से सम्मानित किया।

ये देखकर कुछ दिन पहले घटी घटना याद आ गयी और एक सवाल भी उठा कि क्या मोदी और रमन के संस्कारों में जमीन आसमान का अंतर है।

एक ओर डॉ रमन थे जो उम्र और उपलब्धि को ध्यान रख कर बधाई देने के लिए झुक गए और एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी थे जिन्होंने भरी सभा के बीच वयोवृद्ध नेता लाल कृष्ण अडवाणी को न सिर्फ नज़र अंदाज़ किया बल्कि उनके तरफ देखना या उनका अभिवादन स्वीकारना भी उचित नहीं समझा।इस बात से न सिर्फ भाजपा के लोग दुखी हुए थे बल्कि आम लोग भी इसे देख कर अपनी प्रतिक्रिया देने में पीछे नहीं रहे थे -

 

इन दोनों राजनेताओं के काम को देखकर एक बात कही जा सकती है कि छत्तीसगढ़ की मिटटी और छत्तीसगढ़ के संस्कार इतने ऊँचे हैं कि यहाँ पद से बड़ा सम्मान उम्र का होता है। 

web team IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News