News

इस गर्मी आप भी जा सकते हैं गंगटोक यात्रा पर

Last Modified - March 15, 2018, 1:49 pm

 गर्मी की शुरुआत हो गयी है और साथ ही बच्चों के एग्जाम भी ख़त्म होने को है तो ऐसे में कहीं घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आप विचार कर सकते हैं गंगटोक का। कंचनजंघा पर्वत श्रेणी के साए में बसा गंगटोक शहर (स्थानीय नाम - गांतोक) सिक्किम राज्य की राजधानी होने के  साथ-साथ उत्तर-पूर्वी राज्यों का एक मुख्य पर्यटक स्थल भी है। यह सिक्किम का सबसे बड़ा शहर और मुख्यालय है, यहाँ पर कई मंजिला ईमारतो और नगर व्यवस्था को देखकर सहज विश्वास नहीं होता की यह एक पहाड़ी नगर है।

  यहाँ के नियम बहुत कड़े हैं शहर में पैदल चलने वालो के लिए सड़क किनारे लोहे की जाली लगा एक पैदलमार्ग का निर्माण किया गया है। शहर की पुलिस व्यवस्था, सड़क यातायात दुरुस्त है और यहाँ के नियम-कानून सख्ती से पालन किये जाते है । हिमालय श्रंखला में गंगटोक समुन्द्रतल से 1650 मीटर (5410 फीट) की ऊंचाई पर बसा होने का कारण यहाँ का मौसम हमेशा सुहावना बना रहता है । मुख्य पर्यटक स्थल होने के कारण यहाँ पर छोटे-बड़े होटलों की भरमार है, वैसे शहर के मध्य एम.जी. मार्ग (M.G. Marg) या लाल बाजार के पास काफी अच्छे होटल मिल जाते है ।

 

 

गंगटोक का मुख्य पर्यटक मौसम अक्तूबर-नबम्बर और मार्च-मई है । बंगाल की खाड़ी से उठने वाले मानसूनी हवाओ से यहाँ पर मानसून जल्द ही आ जाता है  जून के महीने में बारिश का मौसम शुरू हो जाने के कारण सैलानियों की कम आवाजाही के कारण पर्यटक मौसम नहीं होता है, पहाड़ो पर बादलो और कोहरे का राज हो जाता है और इस कारण से दूर के वादियों के द्रश्य बिल्कुल साफ नजर नहीं आते । मानसून के मौसम में बारिश के कारण यहाँ की हरियाली अपने चरम पर होती है, जगह-जगह छोटे-बड़े झरने देखने को मिल जाते है । शहर में कोहरे और ठंडी हवाओ बीच यहाँ का भ्रमण काफी सुकूनदायक हो जाता है। 

 

 

वेब टीम IBC24

Trending News

Related News