रायपुर News

बल्ला टूटने पर पेड़ पर बैठी थी क्रिकेट टीम, रमन बोले जावव आजे ले लेहू, दिए 500 रुपये

Last Modified - March 20, 2018, 10:44 am

रायपुर। छत्तीसगढ़ में इन दिनों रमन सिंह सरकार का लोक सुराज अभियान चल रहा है, जिसमें मुख्यमंत्री अचानक किसी भी गांव के औचक निरीक्षण पर पहुंच रहे हैं। अभियान के दौरान समाधान शिविर लगाए गए हैं, जहां जन शिकायतों के त्वरित निवारण के निर्देश हैं। रमन जब कोंडागांव जिले के पूसापाल गांव के दौरे पर पहुंचे और पैदल घूमकर गांव को देखना शुरू किया तो देखा कि कुछ बच्चे इमली के पेड़ की एक झुकी डाल पर एक लाइन से बैठे हैं। रमन सिंह की दिलचस्पी इस दृश्य को देखकर जाग उठी और उन्होंने बच्चों से बात की।

ये भी पढ़ें- ट्रेनी IPS अफसर ने तीन इंस्पेक्टर को कमरे में बंद कर जमकर पीटा, ICU में भर्ती

रमन ने छत्तीसगढ़ी भाषा में बच्चों से पहले तो उनकी पढ़ाई-लिखाई के बारे में जानकारी ली और फिर पूछा कि वो खेल भी खेलते हैं या नहीं क्योंकि खेलना भी उतना ही जरूरी है। बच्चों ने इसके जवाब में मुख्यमंत्री से कहा कि वो क्रिकेट खेलते हैं और ये सभी क्रिकेट टीम के खिलाड़ी हैं, लेकिन यहां बैठे हैं क्योंकि हमर बैट हा टूटगे हे (हमारा बल्ला ही टूट गया है)। सीएम रमन सिंह ने पूछा कि कितने में नया बैट आ जाएगा। बच्चे बोले-वैसे तो 350 रुपये में भी आ जाता है लेकिन अच्छा वाला बैट 500 रुपये में आता है। बच्चों की बात सुनकर रमन मुस्कुराए, अपनी जेब में हाथ डाला, उसमें से 500 रुपये निकाले और बच्चों को देते हुए बोले-जावव आजे ले लेहू (जाओ आज ही ले लो)। इसके बाद तो बच्चों की खुशी का ठिकाना ही न रहा। लोक सुराज की इस दिलचस्प घटना और बच्चों के साथ अपनी अनोखी बात-मुलाकात को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपने सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया है।

बच्चों की इस क्रिकेट टीम के साथ अपनी जो तस्वीर रमन सिंह ने पोस्ट की है, उसमें वो अधिकारियों के साथ खड़े हैं, जबकि बच्चे बड़े आराम से पेड़ पर बैठे-बैठे ही बारी-बारी से उनसे हाथ मिला रहे हैं। 

ये भी पढ़ें- नक्सली हमले में 7 गोलियां खाने के बाद जवानों के साथ ऐसा सुलूक शर्मनाक, ये है सरकार की सच्चाई

लोक सुराज के दौरान मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पहले भी बच्चों से मिलने, उनसे बात करने के लिए खास तौर पर वक्त निकालते रहे हैं। कई बच्चों को तो ये भी नहीं पता होता कि वो किससे बात कर रहे हैं, इसलिए वो काफी खुलकर और बिना झिझक बात करते हैं।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News