IBC-24

निगम के दो अफसर निपटे, पीलिया प्रभावित इलाकों में बदइंतजामी पर भड़के कमिश्नर

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 05 Apr 2018 11:15 AM, Updated On 05 Apr 2018 11:15 AM

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पीलिया के बढ़ते प्रकोप के बाद निगम प्रशासन ने सख्ती दिखाई है। निगम कमिश्नर रजत बंसल दो अफसरों को निलंबित कर दिया है। बताया जा सेनेटरी इंस्पेक्टर और सब इंजीनियर पर कार्रवाई की गई है। दोनों अफसरों अपने इलाके से गायब थे। 

 

राजधानी रायपुर के कांपा, गोपालनगर, चंगोराभाठा, सदरबाजार व रामकुंड में पीलिया फैला हुआ है। यहां के पानी के दूषित होने को पीलिया का कारण माना जा रहा है।  यहां की पाइप लाइन जर्जर हालत में है। इसके पहले डीडीनगर के बाद अनुरागनगर व हीरापुर में पाइप लाइन बदली गई थी। वहां पीलिया व्यापक रुप से फैला था। इस साल भी पीलिया की मुख्य वजह गंदे पानी सप्लाई को माना जा रहा है। पिछले दिनों कलेक्टर कमिश्नर ने प्रभावित इलाकों का दौरा कर साफ सफाई रखने के निर्देश दिए थे। इसके बाद भी अधिकारियों की लापरवाही के कारण कार्रवाई की गई। कमिश्नर ने सेनेटरी इंस्पेक्टर यशवंत बेहरा और सब इंजीनियर गोविंद बंजारे को निलंबित किया है। बताया जा रहा है कि कमिश्नर जोन के निरीक्षण के लिए निकले थे, लेकिन दोनों अफसर मौके पर नहीं थे, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई। 

 

ये भी पढ़ें-छग में बीजेपी का लगेगा चौका? 15 मई से शुरू होगी विकास यात्रा

उल्लेखनीय है कि निगम कमिश्नर रजत बंसल बुधवार को पीलिया प्रभावित चंगोराभाठा, सदरबाजार, मोवा व रामकुंड का दौरा किया। उन्होंने लोगों से पूछा कि साफ पानी मिल रहा है कि नहीं। लोगों ने कहा कि नल में दूषित पानी आ रहा है। इस पर बंसल अधिकारियों पर भड़क गए और पूछने लगे कि आखिर लोगों को साफ पानी क्यों नहीं मिल रहा है। बीएसयूपी मकानों में पहुंचे बंसल ने कहा कि गंदे पानी की निकासी का इंतजाम तत्काल किया जाए। सदरबाजार के लोगों ने लंबे समय से गंदा पानी आने की शिकायत की।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Jaundice In Raipur:

ibc-24