News

ग्राम सभाओं में हमले की तैयारी में माओवादी, खतरे में लोगों की जान

Last Modified - April 7, 2018, 11:38 am

रायपुरछत्तीसगढ़ में माओवादी हमले का खतरा मंडरा रहा है। ऐसी आशंका राज्य पुलिस की खुफिया रिपोर्ट में जताई गई है। बताया जा रहा है कि 14 अप्रैल से शुरू होने वाले ग्रामसभाओं में नक्सली हमला कर सकते हैं। ग्रामसभा की बैठक के दौरान माओवादी हमले की आशंका जताई है। खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक नक्सलियों ने पंचायत पदाधिकारियों और ग्रामीणों का अपहरण कर उनकी हत्या करने की योजना बनाई है। 

ये भी पढ़ें- राजधानी के लोगों की उड़ी नींद ! पानी-बिजली में डंडी…

 

ये भी पढ़ें- गोल्ड की हैट्रिक, वेटलिफ्टिंग में सतीश शिवलिंगम ने दिलाया तीसरा सोना

छत्तीसगढ़ पुलिस के सूत्रों के मुताबिक इस रिपोर्ट के बाद सभी आईजी को सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं। इसके अलावा ग्राम सभाओं के दौरान रणनीति में बदलाव किया गया है। ग्रामसभा के दौरान पुलिस और स्थानीय फोर्स को गांव में तैनात करने की हिदायत दी गई है। छत्तीसगढ़ की 10971 ग्राम पंचायतों के 20 हजार से अधिक गांव में ग्रामसभा का आयोजन किया जाना है।

ये भी पढ़ें- भाईजान की जमानत पर सुनवाई टलने के आसार, जज का तबादला

इसमें से माओवादी प्रभावित 5 हजार ग्राम पंचायतों के 3 हजार गांवों में बैठकें होनी है। इसमें सबसे अधिक बस्तर संभाग के 500 से अधिक ग्राम पंचायत के इतने ही गांव में बैठक का आयोजन किया जाएगा। इसमें सरपंच, उपसरपंच, सचिव और सदस्यों के साथ ही बड़ी संख्या में ग्रामीण शामिल होंगे। इन सभाओं में गांव के विकास और उससे जुडी़ सामूहिक और हितग्रामी मूलक योजनाओं पर ग्रामीणों के साथ पंच-सरपंचों की चर्चा होगी। इस दौरान समस्याओं का निराकरण भी किया जाएगा।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News