News

बिना इंजन के 15 किलो मीटर दौड़ी अहमदाबाद-पुरी एक्सप्रेस

Last Modified - April 8, 2018, 1:07 pm

रायपुर। सालों पहले अशोक कुमार अभिनित एक फिल्म आई थी, नाम था आशिर्वाद फिल्म का एक गाना काफी फेमस हुआ और आज भी बच्चे उसे गुनगुनाते दिख जाएंगे। गाने के बोल थे, रेल गाड़ी, रेल गाड़ी छुक-छुक-छुक-छुक, बीच वाले स्टेशन बोले रूक-रूक-रूक-रूक, लेकिन रेल नहीं रूकती रेल चली जाती है 15 किलो मीटर तक बिना ड्रायवर के बिना इंजन के चली जाती है दूर तक जी. हां. आप जो पढ़ रहे वह एकदम सही है। रेल नहीं रूकती बिना इंजन के यात्रियों से भरी अहमदाबाद-पुरी सुपर फास्ट एक्सप्रेस लगभग 15 किलो मीटर तक अपनी मर्जी से लोहे ही अनंत सड़क पर दौड़ती रहती है।

आप भी देखें - 

घटना टिटलागढ़ रेलवे स्टेशन की है जहां से ट्रेन केसिंगा की ओर जा रही थी। घटना का कारण रेलवे कर्मचारियों द्वारा कोचों के व्हील पर स्किड ब्रेक न लगाना बताया जा रहा है। दरअसल जब इंजन हटाया जाता है तो उसे दूसरी ओर से लगाया जाता है, तब तक रेल कोच को अपनी जगह पर बने रहने के लिए स्किड ब्रेक लगाया जाता है। मामले की गंभीरता को देखते हुए रेलवे ने अपने 2 कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। हांलाकि इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है। 

 

वेब डेस्क, IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News