News

कठुआ केस की सुनवाई राज्य से बाहर हो, वकील ने जताई रेप-हत्या की आशंका

Last Modified - April 16, 2018, 11:42 am

श्रीनगर। सोमवार को स्थानीय अदालत में कठुआ रेप केस मामले की सुनवाई शुरू होगी, लेकिन वकीलों के एक समूह द्वारा जिस तरह अदालत में आरोप पत्र दाखिल करने आई जम्मू-कश्मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम को आरोपपत्र दाखिल करने से रोका गया, उसे देखते हुए पीड़ित परिवार ने केस को किसी और राज्य में शिफ्ट करने का मन बना लिया।

यह भी पढ़ें - मुस्लिम समुदाय ने नहीं तोड़ा 'राम मंदिर' बनाने के लिए बनना होगा राम - भागवत

पीड़ित परिवार ने फैसला किया कि वे सुप्रीम कोर्ट से केस की सुनवाई किसी और राज्य में करने की मांग करेंगे। पीड़ित पक्ष की वकील दीपिका सिंह ने कहा कि कठुआ में ट्रायल के लिए अभी माहौल ठीक नहीं है, इसीलिए हम केस को जम्मू-कश्मीर के बारह ले जाने की मांग करने जा रहे है। दीपिका ने यह भी बताया कि किस तरह यह केस छोड़ने के लिए उन्हे डराया धमकाया जा रहा, वे बताती है कि शनिवार के दिन उन्हे धमकी दी गई कि तुम्हे छोड़ा नहीं जाएगा। दीपिका कहती है वे सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में यह बताएंगी की मेरी जान का खतरा है।  

देखें - 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News