News

कठुआ रेप-हत्या के आरोपी ने मांगा नार्को टेस्ट, 28 को अगली सुनवाई

Last Modified - April 19, 2018, 8:12 pm

श्रीनगर। कठुआ गैंगरेप और हत्या मामले में सोमवार को आरोपियों के खिलाफ कठुआ के सीजेएम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई के लिए केस के सभी 8 आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट द्वारा अगली सुनवाई के लिए 28 अप्रैल की तारीख दिए जाने का विरोध करते हुए आरोपी पक्ष के वकील अंकुर शर्मा ने कहा कि अभी तक आरोपियों को क्राइम ब्रांच की ओर से पेश की गई चार्जशीट की काॅपी तक मुह्या नहीं कराई गई है। जिसपर कोर्ट ने आरोपी पक्ष को चार्जशीट मुह्या कराने के आदेश दिए है।

देखें - 

जिस पर वकील अंकुर शर्मा ने कहा कि चार्जशीट में 400 से अधिक पन्ने है, इसे पढ़ने और समझने के लिए अधिक समय की जरूरत है। वकील ने कहा कि इसमें 239 गवाह है और इन्हे पेश करने में काफी समय लगने वाला है। ऐसे में फास्ट ट्रैक कोर्ट में 90 दिन में सुनवाई कैसे हो सकती है। वहीं मामले के मुख्य आरोपी सांझी राम ने कोर्ट में चिल्ला-चिल्लाकर सभी आरोपियों के नार्को टेस्ट करने की मांग की, आरोपी का कहना है कि नार्को टेस्ट के बाद सच्चाई अपने आप सामने आ जाएगी। वहीं कोर्ट रूम के बाहर मुख्य आरोपी सांझी राम की बेटी ने पूरी घटना को षड्यंत्र बताया और कहा कि वह बच्ची कोई हिन्दू-मुसलमान की बेटी नहीं थी। आरोपी की बेटी के आगे कहा कि उस बच्ची के साथ कोई दुष्कर्म हुआ ही नहीं, बच्ची का मर्डर हुआ है। यदि मर्डर की छानबीन सीबीआई करे, तो केस हल हो सकता है अन्यथा निर्दोष ही फसेंगे। 

देखें -

वहीं पीड़ित पक्ष को डर है कि स्थानीय कोर्ट में चल रही सुनवाई को प्रभावित किया जा सकता है। जिसके बाद पीड़ित परिवार केस शिफ्ट करने की मांग लेकर सुप्रीम कोर्ट चला गया। शाम 4 बजे तक स्थती स्थिती साफ हो जाएगी कि केस किसी अन्य राज्य में शिफ्ट होगा या स्थानीय कोर्ट में चलेगा। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News