रायपुर News

रेलवे में नौकरी दिलाने का झांसा देकर वसूले लाखों, नियुक्ति पत्र बांटने के दौरान हंगामे से खुला राज

Created at - April 16, 2018, 7:19 pm
Modified at - April 16, 2018, 7:26 pm

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला लोको पायलट को गिरफ्तार किया गया है। फर्जीवाड़ा उस समय खुला जब वो युवकों को नियुक्ति पत्र बांट रहा था, इसी दौरान पैसे के लेनदेन पर हो हंगामा शुरू हो गया। हंगामा सुनकर डीआरएम और आरपीएफ के लोगों ने जानकारी ली, तो फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ।

मिली जानकारी के मुताबिक भिलाई के लोको पायलट ने चार युवकों को रेलवे में नौकरी दिलाने का झांसा दिया था। युवकों से बकायदा 2-2 लाख रूपए वसूल भी लिया था। डील के मुताबिक लोको पायलट ने सभी को नियुक्ति पत्र के लिए डीआरएम दफ्तर बुलाया था। उसने सभी के नाम से फर्जी नियुक्ति पत्र भी बनवा लिया था। 

सीनियर डीसीएम ने बताया कि आरोपी जी जी राजेश और युवाओं के परिजनों के बीच पैसे को लेकर विवाद हो गया। डीआरएम ऑफिस के सामने ही पैसे को लेकर हाथापाई पर उतारे उतारू हो गए थे। हंगामा होते देख अधिकारी जब वहां पहुंचे तो ठगी का खुलासा हुआ। चौंकाने वाली बात यह है कि आरोपी डीआरएम ऑफिस के अंदर आना जाना करता रहा और इस दौरान उसने रेलवे के अधिकारियों के नाम से फर्जी लेटर तैयार कर लिया था, जिसकी भनक किसी को नहीं लगी। दोनों पक्ष के बीच झगड़ा नहीं होता तो इस ठगी का खुलासा नहीं हो पाता। आरोपी को आगे की जांच और पूछताछ के लिए स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया गया है। ठगी के शिकार जांजगीर और रायपुर के युवकों और उनके परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि उसने टेक्नीशियन फिटर और ग्रेड-3 के पदों पर नौकरी दिलाने का झांसा देकर पैसे लिए थे।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News