News

बिप्लब देव का बयान: भारत में पुरानी सभ्यता से कायम हैं इंटरनेट और टेक्नोलॉजी

Last Modified - April 18, 2018, 12:57 pm

गुवाहाटी। अक्सर नेता अपने वरिष्ठ नेताओं को खुश करने उनका गुणगान करते रहते हैं, ताकि पार्टी में उनका वर्चस्व और वरिष्ठों से संबंध अच्छा बना रहे हैं। गुस्ताखी माफ हो.. लेकिन साहेब गुणगान भी इतना करे कि जो हजम हो सके।   

ये भी पढ़ें- भूपेश ने कहा रख लीजिए अपनी चप्पलें अपने पास, हक़ का पैसा दे दीजिए चप्पलें वे ख़ुद ख़रीद लेंगे

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने ऐसा बयान दिया है, जो सहीं होता.. तो शायद आज भारत के आगे अमेरिका, चीन जापान कई दशकों पीछे होते। 

बिप्लब देब का मानना है कि ये टेक्नोलॉजी महाभारत काल के समय से भारत में विद्यमान है। बिप्लब कुमार ने भारत में टेक्नोलॉजी महाभारत काल से जुड़ा है। जिसका इस्तेमाल महाभारत कालीन संजय ने किया है। संजय का धृतराष्ट्र को महाभारत की लाइव स्ट्रीमिंग बताना उस समय की टेक्नोलॉजी को दर्शाता है। उस समय भी इंटरनेट था सैटेलाइट थे जिसके जरिए संजय ने घर बैठे धृतराष्ट्र को महाभारत की हर एक लड़ाई से वाकिफ कराया था।   

ये भी पढ़ें- 2018 की जंग में यूथ करेगा बेड़ापार! 

दुनिया के शक्तिशाली देशों के साथ भारत में भी कुछ दशकों में ही विज्ञान, इंटरनेट और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में तेजी से  विकास हुआ है। इंटरनेट की जाल से आज फेसबुक, वॉट्सएप, ट्विटर के जरिए लोगों से आसानी से कहीं भी कहीं से जुड़ा जा सकता है।  बिप्लब ने गुवाहाटी में आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में ये बयान दिया है। बिप्लब ने देश में डिजिटलाइजेश में क्रांति लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया है। 

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News