रायपुर News

बारात लेकर अस्पताल पहुंचा दूल्हा, रचाया ब्याह

Last Modified - April 20, 2018, 5:31 pm

रायपुर में अस्पताल परिसर में हुई एक शादी कई मायनों में खास रही। व्हीलचेयर पर बैठकर मनीषा ने प्रफुल्ल के साथ सात फेरे लिए और ज़िंदगी भर साथ निभाने का वादा किया।

देखें वीडियो-

ये भी पढ़ें- जलकी रिसॉर्ट मामले में हाईकोर्ट ने शासन से मांगा जवाब

इस खास शादी में न कोई पंडाल है.. न कोई भव्य आयोजन..  जगह है अस्पताल.. जहां अक्षय तृतीया के दिन रायपुर की प्रोफेसर कॉलोनी के रहने वाले प्रफुल्ल पाटिल ने बोरियाखुर्द की रहने वाली मनीषा धनगढ़ को सात जन्मों के लिए अपना जीवनसाथी चुन लिया। अस्पताल परिसर में हुई इस शादी के पीछे की कहानी भी दिलचस्प है.. दरअसल शादी के एक दिन पहले वधू मनीषा की तबीयत अचानक खराब हो गई। जिससे उसे भाटागांव चौक स्थित अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। मनीषा बिस्तर से उठने की स्थिति में नहीं थी.. तो वर प्रफुल्ल ने अस्पताल में ही बारात ले जाने का फैसला किया। अस्पताल प्रबंधन ने भी इसमें पूरा सहयोग किया। अस्पताल में ही यज्ञवेदी सजाई गई। व्हीलचेयर पर बैठकर मनीषा ने प्रफुल्ल के साथ सात फेरे लिए।

ये भी पढ़ें-  CJI के खिलाफ विपक्ष का महाभियोग प्रस्ताव, 7 दलों का समर्थन

मनीषा भले ही अस्पताल में भर्ती थी। लेकिन प्रफुल्ल की पहल से दोनों की शादी तय तारीख और समय पर हुई। मनीषा इसका सारा श्रेय प्रफुल्ल को देती हैं।

ये भी पढ़ें- अजय चंद्राकर को सुप्रीम राहत, आय से अधिक संपत्ति मामले में दायर याचिका खारिज

कहते हैं शादी सात जन्मों का बंधन है। हर मुश्किल हर विपदा में भी साथ निभाने की वर-वधू कसमें खाते हैं। प्रफुल्ल ने सात फेरों के सात वचन लेने से पहले ही साथ निभाने का जो वादा पूरा किया। उसने न केवल मनीषा और उसके परिवार वालों का दिल जीत लिया है। बल्कि समाज के लिए भी एक मानक स्थापित किया है।

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News