IBC-24

पत्थलगड़ी पर अजीत ने कहा-संविधान के खिलाफ तो अमित बोले क्षेत्र की रक्षा का अधिकार...

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 25 Apr 2018 07:35 PM, Updated On 25 Apr 2018 07:35 PM

रायपुर। जशपुर क्षेत्र में आदिवासीयों के पत्थलगड़ी को लेकर प्रदेश ​की सियासत में अलग अलग दलों की संविधान के नियमों को मानने के मामले में एक राय है। मगर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस नेताओं में पत्थलगड़ी को लेकर मतभेद सामने आया है। पत्थलगड़ी को लेकर जेसीसीजे के नेता अजीत जोगी का कहना है कि, पत्थलगड़ी के नाम पर किसी को किसी क्षेत्र में जाने से नहीं रोका जा सकता, यह संविधान के नियमों के खिलाफ है।

यह भी पढ़ें - पत्थरगढ़ी के समर्थन में सामने आए कांग्रेसी, बढ़ते अत्याचार के कारण मजबूर हो रहे आदिवासी 

वहीं विधायक और अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी ने कहा है कि, आदिवासियों को ग्रामसभा और 5वीं अनूसूची में अपने क्षेत्र की रक्षा करने का अधिकार है। ग्रामसभा आने वाले की नियत देखकर अपने गांव में लोगों को प्रवेश दे सकती है इसमे कोई बुराई नहीं है। अमित जोगी पत्थलगड़ी का समर्थन किया है, जबकि अजित जोगी इसके खिलाफ हैं।

यह भी पढ़ें - छत्तीसगढ़ में हादसों का बुधवार, 8 अलग-अलग हादसों में 8 की मौत, डेढ़ दर्जन से ज्यादा घायल

गौरतलब है कि, जशपुर के कुछ गांव में ग्रामीणों ने पत्थलगाड़कर पांचवी अनू​सूचि का हवाला देते हुए ग्रामसभा ने बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश, आवास, व्यापार पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Jogi Statement :

ibc-24