News

जनता कांग्रेस से नेताओं की वापसी पर भूपेश बोले और आएंगे, जोगी बोले जाएंगे कम, आएंगे ज्यादा

Created at - April 26, 2018, 9:57 pm
Modified at - April 26, 2018, 9:57 pm

रायपुर। चुनाव से पहले ही अजीत जोगी का कुनबा घटने लगा है। पार्टी के घोषणा के बाद अजीत जोगी के साथ गए नेता एक-एक कर कांग्रेस में वापस लौटने लगे हैं। अजीत जोगी के साथ कई बड़े चेहरे कांग्रेस छोड़कर चले गए थे। सबसे पहले पूर्व मंत्री डीपी घृतलहरे ने अजीत जोगी का साथ छोड़ा, इसके बाद अंबिकापुर में दो महामंत्री ने इस्तीफा दिया, बस्तर में जोगी की आस रहे कवासी लखमा के बेटे हरीश कवासी ने भी पार्टी छोड़ दी। इसके बाद बिलासपुर के युवा नेता अंकित गौरहा ने भी पार्टी की आंतरिक लड़ाई के बाद इस्तीफा देकर कांग्रेस ज्वाईन कर लिया। जोगी जिस कार्यकर्ता के लिए 100 गाड़ियों का काफिला लेकर राजनांदगांव गए थे, उस युवा विंग के नेता मेहुल मारू को जोगी ने ही बाहर का रास्ता दिखा दिया।

यह भी पढ़ें - रमन के न सूत न कपास वाले तंज पर भूपेश का पलटवार कहा ये लोकतंत्र है, अनुशासनहीनता नहीं

इधर जोगी के दल में राष्ट्रीय महासचिव रही बिलासपुर की पूर्व मेयर वाणी राव ने भी जनता कांग्रेस छोड़ कांग्रेस में प्रवेश कर लिया है। बिलासपुर में कई छोटे बड़े कार्यकर्ता पहले ही कांग्रेस में वापसी कर चुके हैं। माना जा रहा है कि जो लोग जोगी की कांग्रेस में वापसी की आस लेकर जोगी के साथ गए थे, वे लोग उम्मीद टूटता देख कांग्रेस में वापस लौटने लगे हैं। इसे लेकर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष ने कटाक्ष किया है कि, चुनाव आते आते और भी कई बड़े चेहरे जोगी को छोड़कर कांग्रेस में वापस आ जाएंगे। वहीं अजीत जोगी ने कहा है कि, चुनाव के दौरान लोगों का पार्टी में आना जाना लगा रहता है, लेकिन चुनाव में जनता कांग्रेस से जाने वालों की तुलना में आने वाले लोग अधिक होंगे।

 

वेब डेस्क, IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News