रायपुर News

रमन ने दी गोबर बेचने वाली महतारी की मिसाल- ‘अब बन गई उद्योगपति, शहरों में खिला रही आइसक्रीम’

Created at - May 5, 2018, 7:26 pm
Modified at - May 5, 2018, 7:26 pm

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा आयोजित ग्राम स्वराज अभियान के समापन समारोह में बुजुर्गों के लिए घोषणाएं की। उन्होंने कहा कि अब दूरदराज के गांवों में पंचायत के माध्यम से ही बुजुर्गों को पेंशन की राशि मिलेगी।

समारोह में मुख्यमंत्री ने ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गोबर बेचने वाली वाली महिलाओं के बारे में कहा कि वे अब उद्योगपति बन गई हैं और राजधानी के लोगों को आइसक्रीम खिला रही हैं। उन्होंने राजनांदगांव की महिला समूह का भी जिक्र किया। मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम के जरिए बिहन की महिलाओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पोस्टकार्ड भेजने की अपील भी की।

यह भी पढ़ें : बॉम्बे हाई कोर्ट के इस जज ने सुबह 3:30 बजे तक की मामलों की सुनवाई, जानिए क्यों

सीएम ने आजीविका एवं कौशल विकास मेला का शुभारंभ भी किया। ग्राम स्वराज अभियान के समापन समारोह और आजीविका एवं कौशल विकास मेला के मौके पर बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। राजधानी रायपुर स्थित सरदार बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में आयोजित इस कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत मंत्री अजय चन्द्राकर ने की।

बता दें कि केंद्र सरकार ने अंबेडकर जयंती के मौके पर 14 अप्रैल 2018 से 5 मई, 2018 तक ग्राम स्वराज अभियान-सबका साथ, सबका गांव-सबका विकास कार्यक्रम आयोजित करने की घोषणा की थी। इस कार्यक्रम का उद्देश्य सामाजिक सौहार्द को बढ़ावा देना, गरीब परिवारों तक पहुंच कायम करना और केंद्र सरकार की विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं तथा कार्यक्रमों से वंचित रह गए सभी लोगों को इनके दायरे में लाकर लाभान्वित करना है।

ग्राम स्वराज अभियान के दौरान 21058 गांवों के लिए विशेष पहल शुरू की गई है। इस अभियान के अंतर्गत गरीब समर्थक पहलों में उज्ज्वला योजना, मिशन इन्द्रधनुष, प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना, उजाला, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का शत-प्रतिशत आच्छादन किया जाएगा।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News