News

कांग्रेस का आरोप- ‘रेड्डी भाईयों की जमानत के लिए भाजपा सांसद ने पूर्व सीजेआई को दी थी रिश्वत’

Last Modified - May 10, 2018, 7:55 pm

बेंगलुरू। कर्नाटक चुनाव के लिए मतदान होने से 2 दिन पहले कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा सांसद और अभी विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी श्रीरामुलु ने अवैध खनन के मामले में रेड्डी भाईयों की जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट के जज को रिश्वत दी थी।

कांग्रेस नेता दिनेश गुंडू राव ने कहा कि भारत के सीजेआई बालकृष्णन ने रिटायर होने से एक दिन पूर्व रेड्डी भाइयों से संबंधित खनन कंपनी से जुड़ा एक आदेश पारित किया था। राव ने यह भी कहा कि अब कई वीडियो जारी किए गए हैं, जो दिखाते हैं कि तत्कालीन सीजेआई के दामाद, श्रीरामुलु और रेड्डी भाइयों के बीच रिश्वत सौदे कैसे किए गए थे।

कांग्रेस का दावा है कि वीडियो में श्रीरामूलु और मीडियेटर कप्तान रेड्डी, बालन, स्वामीजी रजनीश और सीजेआई बालकृष्णन के दामाद स्रीनिजन ने ओबलापुरम मामले में सर्वोच्च अदालत से अनुकूल निर्णय लेने के लिए रिश्वत सौदे पर चर्चा की।

यह भी पढ़ें : यहां जवान नहीं बुजुर्ग नेता की है डिमांड, 92 बरस में फिर बने प्रधानमंत्री

 

 

 

कांग्रेस ने दावा किया कि रिश्वत की रकम को लेकर विवाद के कारण इन वीडियो को फिल्माया गया था। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट और जेल जा चुके नेताओं का समर्थन करने के बावजूद, प्रधान मंत्री कर्नाटक में आते हैं और हमारे खिलाफ आधारहीन आरोप लगाते हैं।  राव ने कहा कि इस बड़े खुलासे से पता चला है कि कैसे रेड्डी-श्रीमरुलु गिरोह ने सीजेआई को रिश्वत दी। क्या बीजेपी और पीएम मोदी जवाब देंगे?

उन्होंने कहा कि ‘श्रीरामुलु अब बीजेपी के स्टार प्रचारक हैं। प्रधान मंत्री ने अब अपनी चुप्पी तोड़ें और कर्नाटक के लोगों को जवाब दें कि क्यों बेल्लारी गिरोह को कर्नाटक लूटने के लिए वापस लाया गया है। उन्होंने मामले में तत्काल उच्च स्तर की जांच की मांग की।

वेब डेस्क IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News